कम्बोडिया: समुद्र तल से 1 हजार मीटर की ऊंचाई पर स्थित है पर्वतीय देवदार जंगल

  • कम्बोडिया: समुद्र तल से 1 हजार मीटर की ऊंचाई पर स्थित है पर्वतीय देवदार जंगल
You Are HereLatest News
Monday, January 08, 2018-12:13 PM

कम्बोडिया का किरीरोम राष्ट्रीय उद्यान तटवर्ती कस्बे पेस के 4 घंटे के सफर पर है। शहर के मैदानी इलाकों से जैसे-जैसे आप आगे को बढ़ते हैं शहरी शोर खत्म होने लगता है और आस-पास दृश्य बदलने लगता है। 


शहर के बाहर हरे-भरे चावल के खेत शुरू हो जाते हैं। किरीरोम की ओर आगे बढने पर चौड़े पत्तों वाले वृक्षों वाला इलाका शुरू हो जाता है और उससे आगे पहाड़ी इलाके में पहुंचते ही वहां देवदार और चीड़ के पेड़ों के जंगल आ जाते हैं। समुद्र तल से 1 हजार मीटर की ऊंचाई पर स्थित किरीरोम कम्बोडिया का एकमात्र पर्वतीय देवदार जंगल है।

 
शाही परिवार की आरामगाह
सर्वप्रथम 1944 में राजा नोरोडोम सिहानोक हाथी पर सवार होकर यहां पहुंचे थे। उन्होंने ही इसका नाम किरीरोम यानी खुशी का पहाड़ रख कर यहां एक रिजॉर्ट की स्थापना की। आज राजा के महल के केवल अवशेष ही बचे हैं जिसमें एक विशालकाय फायरप्लेस (आग जलाने के लिए जगह) भी शामिल है जो खासा ऊंचा है। 


1950 के दशक में यहां पर कम्बोडिया के रईसों के लिए करीब 150 विला बनाए गए थे। जो अब वीरान पड़े हैं। 1979 में जनसंहार के लिए कुख्यात ख्मेर रूज की सत्ता पलट के बाद इसके बचे हुए समर्थकों ने इसे ही अपना गढ़ बना लिया था। उन्होंने राजा और उनके समर्थकों के प्रति अपनी नफरत जाहिर करने के लिए कई विलाओं को ध्वस्त कर दिया था। 


रहस्यमयी छवि
आज यह जंगल पूर्णत: सुरक्षित है परंतु पहली नजर में यह भूतहा और रहस्यमयी प्रतीत होता है। हालांकि, इन खस्ताहाल विलाओं की खोजबीन खूब रोमांच पैदा करती है। यहां पर गोलियों के निशान साफ दिखाई देते हैं।


यहां पर्यटकों के लिए किरीरोम माऊंटेन लॉज नामक एक होटल है। इसे एक विला का ही जीर्णोद्धार करके बनाया गया है। सफेदी में पुता कंक्रीट, पहाड़ी पर इसकी लोकेशन तथा सुंदर डिजाइन के साथ यह रोजर मूर के जमाने की किसी जेम्स बांड फिल्म के सैट जैसा प्रतीत होता है। सप्ताहांत के दौरान यहां खासी भीड़ रहती है परंतु अन्य दिनों में यहां आसानी से स्थान मिल जाता है। 


इस जगह का सुहावना मौसम और देवदार के पेड़ों के मध्य यहां पर फ्रैंच एल्प्स पर्वतों जैसा अहसास होता है।


यहां के कुछ रहस्यमयी व छुपे हुए खास स्थलों के बारे में जानकार गाइड आपको बता सकते हैं। जंगल के बीच से गुजरते हुए आप एक पहाड़ी के किनारे पर पहुंच सकते हैं जहां से नीचे आपको कार्डमम पर्वत (इलायची पर्वत) दिखाई देते हैं। इन पर्वतों पर दक्षिण-पूर्व एशिया के अंतिम बचे प्राचीन वर्षावनों में से एक मौजूद है। 


यह जंगल अनगिनत दुर्लभ प्रजाति के जीवों का घर है। इनमें पैंगोलिन भी शामिल हैं जिन्हें विश्व में सबसे ज्यादा शिकार किया जाने वाला जीव माना जाता है। इस जंगल में 15वीं से 17वीं सदी के मध्य के कई ऐतिहासिक स्थल भी मौजूद हैं। इनमें सेरामिक के बड़े-बड़े जार तथा अनेक ताबूत पत्थरों पर रखे मिलते हैं जो गुजरे जमाने में स्थानीय लोगों की अंतिम क्रिया संबंधी परम्पराओं के बारे में बहुत कुछ बताते हैं। 


खूबसूरत जलप्रपात
इलाके में एक खूबसूरत जलप्रपात भी है। हालांकि, इसे एक पर्वतीय धारा भी कह सकते हैं जो नीचे गिरते हुए छोटी-सी झील बनाती है और थोड़ा-सा आगे जाकर फिर से जंगल में प्रविष्ट हो जाती है। झील के आस-पास स्थानीय लोग खाने-पीने की विभिन्न चीजें बेचते हैं।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You