500 करोड़ के घोटालों की जांच कर रहे SP का तबादला, मचा बवाल

  • 500 करोड़ के घोटालों की जांच कर रहे SP का तबादला, मचा बवाल
You Are HereNational
Wednesday, January 11, 2017-8:08 PM

भोपाल : मध्य प्रदेश के कटनी के एसपी गौरव तिवारी का ट्रांसफर करने के विरोध में जन आक्रोश थमने का नाम नहीं ले रहा। मंगलवार को कटनी बंद के बाद बुधवार को भोपाल में भी प्रदर्शन किया गया। कटनी के एसपी गौरव तिवारी के सपोर्ट में कांग्रेस ने भोपाल में सरकार के खिलाफ घेराव-प्रदर्शन किया। कांग्रेस नेता और पार्षद मोनू सक्सेना के मुताबिक, प्रदेश सरकार के एक मंत्री हवाला कांड में फंस गए हैं। बावजूद सरकार ने उन्हें हटाने के बजाय मामले की जांच कर रहे एसपी का ट्रांसफर कर दिया। उधर, इस मामले को भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने गंभीरता से लिया है। संगठन ने प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे से इस मामले में रिपोर्ट मांगी है। 

इसलिए हुआ तिवारी का ट्रांसफर
तिवारी एक्सिस बैंक समेत कई बैंकों में फर्जी खातों से 500 करोड़ रुपए के हवाला लेन-देन की जांच कर रहे थे। एसआईटी की जांच में घोटाले के सबसे बड़े सूत्रधार सरावगी बंधुओं के नाम सामने आए थे। इनके 4 नौकरों के नाम से कई बोगस कंपनियां बनाई गई थीं। 6 जनवरी तक सरावगी के 2 नौकर संदीप बर्मन और संजय तिवारी को गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने पूछताछ में सरावगी के राज्य सरकार में मंत्री संजय पाठक के रिश्तेदारों से नजदीकियों की बात बताई थी। तिवारी को हटाकर उनकी जगह सीएम सिक्युरिटी में लंबे समय तक एसपी रहे (मौजूदा देवास एसपी) शशिकांत शुक्ला को कटनी का एसपी बनाया गया है।

कटनी हवाला मामले के लिए एसआईटी का प्रश्न ही नहीं : सिंह 
मध्यप्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने स्पष्ट तौर पर कटनी में करोड़ों रुपए के हवाला मामले के लिए विशेष जांच दल के गठन से इनकार किया है। सिंह ने कहा कि अगर कोई मामला है तो आयकर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को कार्य करना चाहिए। एसआईटी के गठन के सवाल पर उन्होंने कहा कि इसका कोई प्रश्न ही नहीं उठता है। स्थानांतरण को उचित बताते हुए उन्होंने कहा कि कटनी एसपी को बड़े जिले की कमान सौंपी गई है। 

कटनी हवाला मामले में संलिप्तता से पाठक का इंकार 
कटनी एक्सिस बैंक हवाला मामले में चर्चा में आए मध्यप्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम राज्यमंत्री संजय पाठक ने इस घोटाले में संलिप्तता से इंकार करते हुए किसी भी एजेंसी से इसकी जांच कराने की बात कही है। पाठक ने इस घोटाले और कटनी के पुलिस अधीक्षक (एसपी) गौरव तिवारी के तबादले के बारे में सफाई दी। उन्होंने कहा कि तबादला रूटीन प्रक्रिया है। पाठक ने कहा कि कुछ लोग हैं जो सड़कों पर सामने आ रहे हैं। इनमें ऐसे लोग भी हैं, जिन पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You