500-1000 के नोट बैन होने से शादी विवाह का मौसम बुरी तरह प्रभावित

  • 500-1000 के नोट बैन होने से शादी विवाह का मौसम बुरी तरह प्रभावित
You Are HereNational
Monday, November 14, 2016-3:47 PM

 नई दिल्ली: पांच सौ और हजार रुपए के बड़े नोटों के चलन से बाहर होने से फौरी तौर पर नकदी की कमी हो गई है, और इसके साथ ही शादी विवाह का उत्सव कर पाना काफी कठिन काम हो गया है।  ‘‘क्या मुझे टेंटवाले और सुनार को पहले ही पैसा दे देना चाहिये था?’’ मुझे रोज यही दुविधा रहती है।  नोट बंद करने के लिए सरकार का शुक्रिया। मेरे पास लोगों को चुकाने के लिए ज्यादा नकदी नहीं है। 

राजेंद्र गुप्ता की शादी 24 नवंबर को तय है। उन्होंने कहा ,‘‘कल मेरे दरवाजे पर कुछ लोग पैसा लेने के लिए दस्तक दे रहे थे। दरवाजे के ठीक बाहर का माहौल रोमांच से भरा है। शादी का उत्सव एक बुरे सपने में बदल गया है। उन्होंने सरकार के इस कदम का समर्थन करते हुए कहा कि समस्या नए नोटों को लाने के बारे में सही प्रबंधन नहीं होने के कारण है। उन्होंने कहा, ‘‘आप लोग यह उमीद कैसे कर सकते हैं कि जिसके घर में शादी होने वाली हो, वह जाकर नोट बदलने की लंबी कतार में खड़ा रहे? अगर वह एेसा करता भी है, तो उसे 10,000 या इससे कम रुपए ही मिलेंगे, जिससे उसका शादी का खर्च निकालने का लक्ष्य पूरा नहीं होगा।’’ शादी विवाह के इस मौसम में कारोबारियों का सबसे ज्यादा कारोबार होता है, लेकिन बाजार में नकदी नहीं होने से समस्याएं उत्पन्न हो गई है। 

उल्लेखनीय है कि राजधानी में बारात में शामिल होने वाले अनेक बैंड अपने ग्राहकों को पूरा पैसा चुकाने के लिए ‘एक माह’ की समयसीमा दे रहे हैं, लेकिन अभी लोगो के पास पूर्व में भुगतान करने के लिए पैसा नहीं है। टैगोर गार्डन में शादी विवाह कराने वाले सिन्धी हीरानंद बैंड के मालिक पंकज ने कहा, ‘‘लोगों के पास नयी नकदी नहीं है, इसलिए हमारा कारोबार प्रभावित हो रहा है।’’ 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You