विरोध के बाद भी अनामिका ने लिया सन्यास, भाई को सौंपी अपनी बेटी

  • विरोध के बाद भी अनामिका ने लिया सन्यास, भाई को सौंपी अपनी बेटी
You Are HereNational
Monday, September 25, 2017-6:18 PM

नई दिल्ली: 100 करोड़ की संपत्ति के मालिक सुमित की पत्नी अनामिका ने भी अपने पति के बाद सन्यास ले लिया है। भारी विरोध के बावजूद भी अनामिका ने अपनी तीन साल की बेटी को छोड़कर सूरत में जैन भागवती दीक्षा लेकर संयासी वेश धारण कर लिया। अखिल भारतीय साधुमार्गी जैन संघ के राष्‍ट्रीय मंत्री संदीप खाबिया ने बताया कि आचार्य रामलाल महाराज ने अनामिका को दीक्षा दी। उन्होंने कहा कि इस मामले में आ रही तमाम कानूनी रुकावटें दूर कर दी गई।

PunjabKesari

महर्षि उदय मुनि ने बताया कि दीक्षा के पहले अनामिका से पूछताछ के लिए पुलिस के अफसर आए थे। अनामिका ने उन्हे बताया कि वह बच्ची को अनाथ, असहाय, दीन-हीन अवस्था में छोड़कर नहीं जा रही है उसके भाई-भाभी को कोई संतान नहीं है जिन्होंने उसकी बेटी को गोद ले लिया। उसके प्रमाण में दस्तावेज भी प्रस्तुत किए। अनामिका ने कहा कि उसका मायका और ससुराल परिवार भी करोड़पति है।

PunjabKesari

नीमच में 100 करोड़ की संपत्ति और तीन साल की मासूम बेटी को छोड़कर संन्यास ले रहे अनामिका की दीक्षा का भारी विरोध किया गया था। इस विरोध के चलते ही अनामिका के दीक्षा कार्यक्रम को टाल दिश गया। 3 साल की बेटी इभ्या के त्याग के कारण उनकी दीक्षा को लेकर देशभर में चर्चा हो रही थी कई लोगों ने इसका विरोध किया। लेकिन धार्मिक रीति-रिवाज के साथ 23 सितंबर को श्री साधुमार्गी जैन आचार्य रामलालजी के सान्निध्य में सुमित ने दीक्षा ले ली थी। 
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You