मोदी की कानपुर रैली की व्यवस्था देख रही है गुजरात पुलिस

  • मोदी की कानपुर रैली की व्यवस्था देख रही है गुजरात पुलिस
You Are HereNational
Thursday, October 17, 2013-1:25 PM

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को शायद उत्तर प्रदेश पुलिस पर भरोसा नहीं है। इसीलिए कानपुर में 19 अक्टूबर को प्रस्तावित रैली में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने गुजरात पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी आ रहे हैं।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने एक न्यूज एजेंसी को आज यहां बताया कि पुलिस उपमहानिरीक्षक स्तर के अधिकारी के नेतृत्व में
गुजरात पुलिस की टीम यहां आ रही है। टीम के दो सदस्य कानपुर पहुंच गए हैं, जबकि अन्य पहुंच रहे हैं। गुजरात पुलिस की टीम पहले यहां पुलिस महानिदेशक कार्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात करेगी। उसके बाद कानपुर जाएगी। गुजरात पुलिस स्थानीय अधिकारियों के साथ बैठक कर रैली स्थल पर भी जाएगी।

इस बीच कानपुर के पुलिस उपमहानिरीक्षक आर. के. चतुर्वेदी ने काफी कुरेदने पर यहां फोन पर एर न्यूज एजेसमी  से सिर्फ इतना ही
कहा, ‘‘यह गुजरात पुलिस की अपनी व्यवस्था है। वे मोदी की रैली स्थल का मुआयना करते ही हैं। इसमें यू.पी. पुलिस पर भरोसा नहीं
करने का सवाल नहीं है।’’
 
उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पहली चुनावी रैली होने के कारण प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने इसका नाम
‘विजय शंखनाद रैली’ रखा है। यही नाम प्रदेश में होने वाली सभी आठों रैलियों का भी रखा गया है। प्रदेश की अंतिम और नौंवी रैली के नाम के बारे में बाद में विचार किया जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You