Subscribe Now!

मोदी के मंच से गायब रहे हिंदुत्व के झंडाबरदार

  • मोदी के मंच से गायब रहे हिंदुत्व के झंडाबरदार
You Are HereUttar Pradesh
Sunday, October 20, 2013-9:11 AM

कानपुर: विजय शंखनाद रैली के माध्यम से उत्तर प्रदेश में चुनाव अभियान का आगाज करने पहुंचे भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की रैली में एक विनय कटियार को छोड़कर, बाकी हिन्दुत्व के झंडाबरदार गायब रहे।

यद्यपि नरेंद्र मोदी के रैली स्थल पर पहुंचने से पहले बोलने वाले वक्ताओं ने जय श्रीराम और वंदे मातरम का नारा खूब लगवाया और स्वयं नरेंद्र मोदी ने भी अपने भाषण का समापन वंदे मातरम के नारे से किया, लेकिन उनके चुनावी अभियान के आगाज के वक्त भाजपा के हिन्दुत्व के चेहरों का गैरहाजिर होना लोगों में चर्चा का विषय बन गया है।

रैली में पार्टी की तेजतर्रार नेता और मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं उप्र की चरखारी विधानसभा सीट से विधायक उमा भारती का न रहना लोगों को खटकता रहा। गोरक्षा पीठ के महंत और भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ और युवाओं के बीच हिन्दुत्व के नए चेहरे के रूप में उभरे वरुण गांधी की अनुपस्थिति भी लोगों के बीच चर्चा का विषय बनी रही।

नरेंद्र मोदी ने रैली को जिस तर्ज पर सम्बोधित किया, उससे यही संदेश गया कि भाजपा अब हिन्दुत्व के मुद्दों से अपने को दूर रखना चाहती है और शायद यही वजह है कि इन तेजतर्रार नेताओं को बुलाने से परहेज किया गया।

मोदी ने अपने भाषण में विकास की बात की और कहा, ‘‘हम देश को विकास के राह पर ले जाना चाहते हैं। बच्चों को शिक्षा मिले, बूढ़ों को दवा मिले, युवकों को रोजगार मिले और माताओं-बहनों को सुरक्षा मिले।’’

मोदी ने आज अपना धर्मनिरपेक्ष चेहरा भी दिखाने का भरसक प्रयत्न किया। उन्होंने लगभग एक घंटे के भाषण के दौरान कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि हिन्दू अच्छा हिन्दू बनें, मुसलमान अच्छा मुसलमान बनें, सिख अच्छा सिख बनें और ईसाई अच्छा ईसाई बनें ताकि हम सब मिलकर एक अच्छा हिन्दुस्तान बनाएं।’’

मोदी ने यह भी कहा कि सरकार का केवल एक ही मजहब होता है ‘इंडिया फस्र्ट’ और एक ही धर्म ग्रंथ होता है, वह है भारत का संविधान। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा का एक मात्र उदे्दश्य है सबका साथ, सबका विकास। पूरे भाषण के दौरान हिन्दुत्व का एक भी शब्द सुनाई नहीं दिया।

हिन्दुत्व के चेहरों के रैली से नदारद रहने पर हालांकि प्रदेश का कोई शीर्ष नेता मुंह खोलने को तैयार नहीं है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You