मंच से बलात्कार संबंधी सवाल पूछने पर राहुल को अदालत में घसीटेंगे झा

  • मंच से बलात्कार संबंधी सवाल पूछने पर राहुल को अदालत में घसीटेंगे झा
You Are HereNational
Tuesday, October 22, 2013-10:44 AM

इंदौर: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा मध्यप्रदेश में हालिया रैली के दौरान बलात्कार के मुद्दे को लेकर आदिवासी महिलाओं से कथित तौर पर मंच से सवाल पूछने पर उनके भाजपाई समकक्ष प्रभात झा ने कल कड़ी आपत्ति जताई। झा ने इस कथित सवाल को आदिवासियों का अपमान करार देते हुए कहा कि वह भोपाल की अदालत में राहुल के खिलाफ दो अलग-अलग मुकदमे दायर करेंगे। झा ने यहां भाजपा कार्यालय में बुलाये संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘राहुल ने शहडोल जिले में कांग्रेस की 17 अक्तूबर को आयोजित रैली को संबोधित करते हुए आदिवासी महिलाओं से पूछा था कि क्या सूबे में भाजपा के पिछले 10 साल के शासनकाल में उनके साथ बलात्कार हुआ है।

 

कांग्रेस उपाध्यक्ष का महिलाओं से सार्वजनिक तौर पर इस तरह का दुर्भावनापूर्ण सवाल करना घोर आपत्तिजनक है।’ उन्होंने कहा कि वह इस आपत्तिजनक बयान को लेकर कल 22 अक्तूबर को भोपाल की एक अदालत में राहुल के खिलाफ मानहानि का दावा दायर करेंगे। इसके साथ ही, कांग्रेस उपाध्यक्ष पर अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए अदालत मेें अलग से शिकायत पेश करेंगे। झा ने कहा, ‘राहुल ने बलात्कार पर अपने आपत्तिजनक बयान के जरिये आदिवासियों का जान..बूझकर अपमान किया और इस समुदाय को भाजपा के खिलाफ भड़काने का प्रयास किया।’

 

भाजपा उपाध्यक्ष ने राहुल पर ऐसे वक्त यह आरोप लगाया, जब प्रदेश कांग्रेस राहुल के 24 अक्तूबर को आयोजित चुनावी दौरे की तैयारियों में जुटी है। इस एक दिवसीय दौरे में कांग्रेस उपाध्यक्ष को सागर जिले के राहतगढ़ और सूबे की आर्थिक राजधानी इंदौर में पार्टी की ‘सत्ता परिवर्तन’ रैलियों को संबोधित करना है। झा ने राहुल को राजनीति का ‘फेस्टिवल बॉय’ करार देते हुए कटाक्ष किया, ‘राहुल आते हैं और जनता से हैलो-हॉय कहकर चले जाते हैं। उनकी रैलियों से कांग्रेस का कोई फायदा होने वाला नहीं है, क्योंकि जनता बेहद समझदार है।’

 

बहरहाल, जब प्रदेश में महिलाओं से बलात्कार के बढ़ते मामलों पर भाजपा उपाध्यक्ष से सवाल किया गया तो उन्होंने इन्हें ‘सामाजिक घटनाएं’ करार दिया और कहा कि ऐसी वारदातों में इजाफे के लिये किसी भी पार्टी की सरकार को जिम्मेदार ठहराया जाना ठीक नहीं है। झा ने कहा कि वह केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस की विधासभा चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया के नर्मदा नदी पर दिए गए आपत्तिजनक बयान को लेकर उनके खिलाफ भी अदालत में शिकायत दायर करेंगे। वरिष्ठ भाजपा नेता के मुताबिक सिंधिया ने अपने एक बयान में कथित तौर पर कहा था कि ‘प्रदेश में नर्मदा नदी के साथ बलात्कार हो रहा है।’

 

झा ने कहा कि केंद्रीय मंत्री के कथित बयान से ऐसे लाखों लोगों की आस्था आहत हुई, जो नर्मदा नदी को मां के रूप में पूजते हैं। भाजपा उपाध्यक्ष के आरोपों का जवाब देने में कांगे्रस ने देर नहीं की। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा, ‘शहडोल की रैली के दौरान राहुल ने भाजपा शासित प्रदेश में बलात्कार की घटनाओं में वृद्धि का जायज मुद्दा उठाते हुए सत्तारूढ़ दल को आईना दिखाया था।

 

झा इससे बौखलाए हुए हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष पर उनका ताजा बयान इसी बौखलाहट का सूचक है।’ उन्होंने कहा कि झा केवल सुर्खियों में बने रहने के लिए राहुल और सिंधिया सरीखे बड़े कांग्रेस नेताओं के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You