मुजफ्फरनगर दंगे में आजम खां को राहत

  • मुजफ्फरनगर दंगे में आजम खां को राहत
You Are HereNational
Wednesday, October 23, 2013-1:29 PM

इलाहाबाद: मुजफ्फरनगर दंगों के दौरान पुलिसकर्मियों के स्थानान्तरण तथा निलंबन को लेकर मुश्किल में आए कै बिनेट मंत्री आजम खां को इलाहाबाद उच्च न्यायालय से राहत मिल गई है। उच्चतम न्यायालय द्वारा इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश पर रोक लगाये जाने के बाद उच्च न्यायालय ने भी याचिका पर सुनवाई स्थगित कर दी। उच्चन्यालय ने आजम खां को नोटिस जारी करके जवाब तलब किया था। इस निर्णय के बाद अब उनको उच्च न्यायालय में जवाब दाखिल करने का व्यक्तिगत रूप से आने की आवश्यकता नहीं होगी। स्थानान्तरित सिपाहियों की याचिका पंकज तथा अन्य बनाम राज्य सरकार पर सुनवाई के बाद न्यायमूॢत सुधीर अग्रवाल के समक्ष उच्चतम न्यायालय का आदेश रखा गया।

वरिष्ठ अधिवक्ता एसएमए काजमी और मुख्य स्थायी अधिवक्ता द्वितीय कमरुन हसन सिद्दीकी ने अदालत को उच्चतम न्यायालय के निर्णय की जानकारी दी। आदेश की प्रति भी प्रस्तुत की गई। उच्चतम न्यायालय ने पंकज एवं अन्य में उच्च न्यायालय के आदेश पर रोक लगाते हुए कहा था कि मुजफ्फरनगर और उसके आसपास के क्षेत्र में हुए दंगे से संबंधित हर छोटे बडे मामले की सुनवाई उच्चतम न्यायालय करेगा। उल्लेखनीय है कि इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने सिपाहियों के स्थानान्तरण चार दरोगाओं के  निलंबन तथा एक डिप्टी एसपी के निलंबन पर रोक लगाते हुए उत्तर प्रदेश सरकार तथा आजम खां को नोटिस जारी किया है। इस आदेश के बाद अब इन मामलों पर भी उच्चतम न्यायालय में ही सुनवाई होगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You