मन्ना डे के निधन पर नेता से अभिनेता सभी ने जताया शोक

You Are HereNational
Thursday, October 24, 2013-3:32 PM

मुंबई: जाने-माने गायक मन्ना डे का आज तड़के यहां एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। 94 वर्षीय मन्ना डे को सांस लेने में तकलीफ और गुर्दे की बीमारी के बाद नारायण हृदयालय में भर्ती कराया गया था जहां आज तड़़के तीन बजकर 45 मिनट पर उन्होंने अंतिम सांस ली। वहीं मन्ना डे के निधन पर देशभर में शोक की लहर सी जाग उठी है नेता से अभिनेता सभी ने शोक जताया है। वहीं मनीष तिवारी और मोदी ने बड़ा नुकसान बताया है।

बॉलीवुड गायिका उषा उत्थप ने कहा मन्ना डे की निधन की खबर से गहरा धक्का लगा है।
जावेद अख्तर ने कहा ऐसी जादुई आवाज का मिलना मुश्किल है। मन्ना ने देश की कई भाषाओं में करीब चार हजार गानों को अपनी आवाज दी है।
मन्ना डे के जाने पर नरेंद्र मोदी ने कहा हमने एक महान गायक को खो दिया है।
बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने कहा संगीत संसार का महारथी चला गया, मन्ना डे हमेशा याद रहेंगे।
मनोज वाजपेयी ने कहा उनका संगीत एक हजार साल तक जिंदा रहेगा।
महेश भट्ट ने कहा मन्ना डे चले गए लेकिन उनकी आवाज हमेशा जिंदा रहेगी।
पंडित जसराज ने कहा  मन्ना डे की मखमली आवाज का जादू हमेशा अमर रहेगा

केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने दिग्गज पाश्र्वगायक मन्ना डे के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें ऐसा गायक करार दिया जिसने एक पूरी पीढ़ी को अपने गायन से मंत्रमुग्ध किया। सूचना एवं प्रसारण मंत्री तिवारी ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘मन्नाडे के निधन पर गहरा शोक व्यक्त कर रहा हूं । उनके अद्भुत आवाज ने एक पूरी पीढ़ी को मंत्रमुग्ध किया। एक और महान व्यक्तित्व ने हमें छोड़ गए।’’

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मन्ना डे के निधन पर आज गहरा शोक व्यक्त किया। कुमार ने यहां अपने शोक संदेश में कहा कि पद्मभूषण सेसम्मानित डे ने अपने जीवन में संगीत के विभिन्न आयामो को देश में एक मजबूत आधार प्रदान किया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि डे के निधन से संगीत एवं कला के क्षेत्र में अपूरणीय क्षति हुयी है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति तथा उनके परिजनो एवं प्रशंसको को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज बेंगलूर में मन्ना डे की पुत्री को फोन करके यह आग्रह किया कि अगर वह चाहें तो प्रख्यात गायक का शव अंतिम संस्कार के लिए कोलकाता लाया जा सकता है। उन्होंने जैसे ही मन्ना डे के निधन की खबर सुनी, मन्ना डे की पुत्री को फोन करके इस बाबत पूछतज्ञद की। लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि अंतिम संस्कार के बारे में फैसला करने का पूरा अधिकार परिवार का है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मशहूर गायक मन्ना डे के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। यादव ने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मन्नाडे को ‘‘सुरों का बादशाह’’ बताते हुए उनके निधन पर आज गहरा दुख व्यक्त किया।  सिंह ने अपने शोक संदेश में कहा, ‘‘सुरों के बादशाह के निधन की खबर से मुझे बहुत दुख हुआ है। वह एक अनूठी आवाज के धनी और उत्कृष्ट गायक थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि मन्नाडे के निधन से संगीत की दुनिया ने अपने सबसे प्रतिभाशाली कलाकारों में से एक को खो दिया है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You