‘मोदी अपने भाषणों से बिगाड़ रहे हैं देश में राजनीतिक माहौल’

  • ‘मोदी अपने भाषणों से बिगाड़ रहे हैं देश में राजनीतिक माहौल’
You Are HereNational
Tuesday, October 29, 2013-10:23 AM

नई दिल्ली: कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी पर अपने भाषणों से देश में राजनीतिक माहोल बिगाडने का आरोप लगाते हुए कहा कि सभी दलों को चुनावों के समय शांति और सौहार्द बनाने का काम करना चाहिए। कांग्रेस के प्रवक्ता पी.सी. चाको ने यहां पार्टी की नियमित प्रेस में कहा कि  मोदी अपने भाषणों से घृणा और दूसरे दलों के खिलाफ दुर्भावना फैला रहे हैं और नकारात्मक प्रचार कर रहे हैं। इससे राजनीतिक माहौल बिगड रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा चुनावों में फायदा उठाने के लिए सांप्रदायिकता का माहौल भी बनाती है। उन्होंने सभी दलों से संयम बरतने की अपील की और कहा कि कुछ महीनों बाद होने वाले आम चुनाव के लिए शांति और सौहार्दपूर्ण माहौल रहना चाहिए। नकारात्मक प्रचार से किसी को फायदा नहीं होने वाला है।

मोदी की रैली के दौरान पटना में हुए विस्फोटों की निंदा करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि ङ्क्षहसा का राजनीति में कोई स्थान नहीं है। विस्फोटों के बाद भाजपा द्वारा बिहार सरकार के खिलाफ लगाये जा रहे आरोपों के संदर्भ में उन्होंने कहा कि इस तरह का दोषारोपण ठीक नहीं है। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि बिहार सरकार ने रैली के लिए पुख्ता इंतजाम किये थे या नहीं यह जांच का विषय है लेकिन राज्य सरकार को अधिक गंभीरता से काम करना चाहिए ताकि उस शांतिपूर्ण राज्य में ऐसी हिंसा की घटनाएं न हों। चाको ने इस बात को गलत बताया कि केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे पटना में विस्फोट होने के बावजूद मुम्बई में एक म्यूजिक एलबम के रिलीज में ही व्यस्त रहे। 

उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय ने तत्परता से काम किया और दो घंटे के भीतर ही वहां राष्ट्रीय जांच एजेंसी की टीम पहुंच गयी। गृह मंत्री ने सही ढंग से अपना कर्तव्य निभाया। उन्होंने केरल में मुख्यमंत्री ओम चांडी पर हुए पथराव की घटना की भी निंदा की और इसे माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं की हरकत बताया। उन्होंने कहा कि हिंसा किसी मुद्दे का समाधान नहीं हो सकती और लोकतंत्र में इसका कोई स्थान नहीं है।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You