आम आदमी पार्टी की ‘एबीसीडी’ क्लास

  • आम आदमी पार्टी  की ‘एबीसीडी’ क्लास
You Are HereNational
Tuesday, October 29, 2013-3:18 PM

नई दिल्ली,(निहाल सिंह): राजनीति के अखाड़े में दाव-पेंच आजमाने पहली बार उतरी आम आदमी पार्टी (आप) से जुडऩे वाले कार्यकत्र्ता राजनीतिक समझ  के चुनाव अभियान में जनता से जुडऩे की  एबीसीडी सीख रहे हैं। आप पार्टी से रोजाना करीब 25 -30 नए लोग काम के लिए जुड़ रहे हैं।

साथ ही पुराने कार्यकत्र्ता पार्टी से जुडऩे वाले नए कार्यकत्र्ताओं को कंप्यूटर पर डॉटा एन्ट्री के काम से लेकर पब्लिक की नब्ज टटोलने का फंडा बता रहे है। उन्हें बताया जा रहा है कि आम लोगों का दिल कैसे जीता जाए।कार्यकत्र्ताओं को बताया जा रह है कि वो लोगों के घर-घर जाकर कैसे उनकी समस्याओं से रू-ब-रू हों और उन्हें आश्वासन देने की बजाय समस्या का समाधान निकालने का बीड़ा खुद ही उठाएं।

सरकारी विभागों में बैठे बाबुओं की नींद खोलकर लोगों की समस्या का समाधान करे। इसके अलावा चुनाव प्रचार के तौर-तरीके भी कार्यकत्र्ताओं को बताए जा रहे हैं। गली-मोहल्लों, सड़क, पार्क और सार्वजनिक स्थलों पर जाकर लोगों को पार्टी की विचारधारा और घोषणा पत्र की जानकारी देना भी कार्यकत्र्ताओं को सिखाया जा रहा है। पाठशाला में कार्यकत्र्ताओं के लिए चाय-नाश्ते से लेकर खाने का भी इंतजाम होता है।

 आप का ऑफिस बना कॉल सैंटर:
आम आदमी पार्टी का ऑफिस दोपहर होते-होते ही कॉल सैंटर में बदलने लगता है। पार्टी कार्यालय परिसर में बैठने वाले कार्यकत्र्ता फोन पर केजरीवाल के लिए वोट मांगने की अपील करते हुए दिखाई देते हैं। आप पार्टी द्वारा दी गयी फोन नम्बर की सूची पर लोग व्यवस्था परिवर्तन के लिए वोट डालने की अपील करते हैं।
 
आप कार्यकत्र्ता  सुजाता का कहना है कि देश में व्यवस्था परिवर्तन होना चाहिए इसके लिए कोई ईमानदार और साफ नियत का व्यक्ति ही ऐसा काम कर सकता है। मुझे लगता है कि केजरीवाल दिल्ली में सत्ता में आने के बाद साफ राजनीति की एक मिसाल कायम करेंगे।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You