छेड़छाड़ का विरोध करने पर नाबालिग को जलाया जिंदा

  • छेड़छाड़ का विरोध करने पर नाबालिग को जलाया जिंदा
You Are HereNational
Wednesday, October 30, 2013-11:42 AM

ऋषिकेश/देहरादून: मकान मालिक के पुत्र द्वारा किराएदार की नाबालिग लड़की से की गई छेडख़ानी के बाद विरोध करने पर मिट्टी का तेल डाल कर जलाए जाने की घटना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। इस घटना का खुलासा होश में आने के बाद पीड़ित नाबालिग लड़की ने जब किया तो मां-बाप के पैरों तले की जमीन खिसक गई। उन्होंने मामले की तहरीर पुलिस में दी। पीड़िता का उपचार मायाकुंड स्थित निर्मल अस्पताल में चल रहा है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ  संबंधित धारा में मुकद्दमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। चिकित्सकों के अनुसार लड़की 40 प्रतिशत जली हुई है। पुलिस के मुताबिक 11 वर्षीय नाबालिग लड़की न्यू त्रिवेणी कालोनी चंद्रभागा में माता-पिता और छोटे भाई के साथ एक किराए के मकान में रहती है।

23 अक्तूबर की सुबह नाबालिग के दिहाड़ी-मजदूरी करने वाले परिजन काम पर चले गए और छोटा भाई स्कूल चला गया। दोपहर मकान मालिक का लड़का जो 2 बच्चों का बाप है, लड़की को अकेली देख कमरे में आ गया और उससे छेड़छाड़ करने लगा। लड़की ने विरोध जताया तो सिरफिरे युवक ने मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा दी। चीख-पुकार सुन कर मकान मालकिन पहुंची और जली हुई लड़की को मायाकुंड स्थित निर्मल अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी हालत गंभीर है। उपनिरीक्षक विनोद प्रसाद थपलियाल ने बताया कि पीड़िता के बयान पर आरोपी अन्नू यादव (32) निवासी न्यू त्रिवेणी कालोनी चंद्रभागा के खिलाफ लड़की से छेड़छाड़ और उसे जलाकर मारने के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You