फोटो न होने से 2.78 वोटर नहीं डाल सकेंगे वोट

  • फोटो न होने से 2.78 वोटर नहीं डाल सकेंगे वोट
You Are HereNcr
Wednesday, October 30, 2013-1:02 PM

  नई दिल्ली:  दिसंबर में होने वाले दिल्ली विधान सभा चुनाव में दिल्ली के पौने 3 लाख मतदाता वोट नहीं डाल सकेंगे। राज्य चुनाव आयोग ने ऐसे 2 लाख 78 हजार मतदाताओं की सूची तैयार की है जिनके नाम तो आयोग की मतदाता सूची में दर्ज हैं, लेकिन उनकी फोटो सूची से नदारद है। चुनाव में अपने मत का इस्तेमाल करने के लिए मतदाता सूची में न सिर्फ मतदाता का नाम होना आवश्यक है बल्कि सूची में नाम के सामने उसकी फोटो होनी भी जरूरी है। 

सूची में नाम और फोटो दोनों होने पर ही मतदाता को वोट डालने दिया जाता है। आयोग इन दिनों विधान सभा चुनावों की तैयारी में जोर-शोर से लगा हुआ है। चार दिसम्बर में चुनाव होने है और इसके लिए मात्र एक महीने का ही समय बचा है। आयोग दिल्ली के मतदाताओं की अंतिम सूची जारी करने से पहले बारीकी से सभी पुराने और नए मतदाताओं के मतदाता पहचान पत्रों की जांच कर लेना चाहता है। 

इन दिनों पुराने और नए मतदाताओं के नामों का मिलान मतदाता सूची से किया जा रहा है जिसमें कई तरह की बाधाएं आयोग के सामने आ रही है। 2 सप्ताह पहले आयोग के पास ऐसे 7 लाख लोगों के नाम आए थे जिनके नाम मतदाता सूची में तो दर्ज हैं लेकिन उनके फोटो सूची से गायब थे। इस मामले में जब आयोग के अधिकारियों ने सूची की बारीकी से जांच की तो करीब सवा 4 लाख मतदाताओं की फोटो सूची में शामिल कर ली गई।  

14 लाख वोटरों के नाम हटे 

 दिल्ली चुनाव आयोग ने मतदाता सूची से 14 लाख से ज्यादा मतदाताओं के नाम हटा दिए है। यह सभी मतदाता अब दिसम्बर में होने वाले दिल्ली विधान सभा चुनाव में वोट नहीं डाल सकेंगे। दिल्ली में 4 दिसम्बर को चुनाव होने है जिसके लिए वोटरों की पहचान करने के लिए राज्य चुनाव आयोग ने राजधानी के तमाम इलाकों में जाकर वोटरों की पहचान के लिए सर्वेक्षण किया था। पता लगाया गया कि मतदाता कहीं और तो नहीं रहने लगा है या उसकी मृत्यु तो नहीं हो गई है। इसके अलावा इस बात की भी जांच की गई कि एक से अधिक मतदाता सूची में वोटरों का नाम तो नहीं दर्ज है। जांच में पता चला कि 12,38,970 वोटर दूसरे स्थानों पर रहने चले गए हैं। 1,36,045 वोटरों की मृत्यु हो गई है और 36, 205 वोटरों के नाम एक से अधिक मतदाता सूची में थे। आयोग को इस बार जुलाई महीने में 18 से 25 साल के करीब 3 लाख लोगों के मतदाता पहचान-पत्र बनवाने के लिए आवेदन मिले थे जो 30 दिन में अब तक के सर्वाधिक आवेदन है। इन सभी लोगों के पत्र बनाए जा रहे हैं और नवम्बर में आयोग राजधानी की अंतिम मतदाता सूची जारी करेगा। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You