महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों का देना होगा हर महीने ब्योरा

  • महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों का देना होगा हर महीने ब्योरा
You Are HereNcr
Wednesday, October 30, 2013-4:14 PM

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार उसे कहा है कि वह महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों का ब्योरा हर महीने अदालत के समक्ष पेश करे। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट एक याचिका पर सुनवाई कर रही है जिसमें आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने रेप के एक मामले में केस न दर्ज करने पर विरोध किया था। आप के सदस्यों ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने उनकी पिटाई भी की थी। इस मामले में अदालत से जांच के लिए एक स्पेशल जांच टीम गठित करने की मांग की गई थी। 

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों की रिपोर्ट और फुटैज हर महीने बुधवार को पेश की जाए जिससे वह ऐसी रिकॉर्डिंग को देख सके,  जिसमें कथित तौर महिलाओं के साथ मारपीट की गई थी। इस याचिका में इसी साल अप्रैल में हुई एक घटना का भी जिक्र किया गया है जिसमें  पांच साल की लड़की के साथ हुए रेप के खिलाफ प्रदर्शन में वहां मौजूद पुलिस अधिकारी ने प्रदर्शन कर रही लड़की को थप्पड़ मार दिया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You