फिर विवादों के घेरे में विधायक चैंपियन

  • फिर विवादों के घेरे में विधायक चैंपियन
You Are HereNational
Thursday, November 07, 2013-11:28 AM

देहरादून: काबिना मंत्री हरक सिंह रावत की वीआईपी पार्टी में हवाई फायरिंग के बाद खानपुर के विधायक चैंपियन एक बार फिर विवादों से घिर चुके है। तीन दिन पूर्व विधायक चैम्पियन द्वारा एक मोबाईल शॉप के मालिक पर रिचार्ज न करने पर मामूली विवाद हो गया था जिसमें विधायक चैम्पियन ने शॉप के मालिक के सिर पर रिवाल्वर तान दी थी। इस मामलें को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी ने मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए है। गौरतलब है कि कभी मंत्रियों के घर पर फायर करने तो कभी मुख्यमंत्री पर ही टिप्पणी कर देने वाले कुंवर प्रणव चैंपियन एक बार फिर से अपनी हरकतों के कारण चर्चाओं में है। कुछ दिन पहले ही चैम्पियन ने अपने एक नौकर को उनका फोन रिचार्ज करने के लिए भेजा था लेकिन किसी कारणवश मोहिनी रोड पर मोबाईल की शॉप चलाने वाले दुकान स्वामी ने चैपिंयन का मोबाईल रिचार्ज करने से मना कर दिया।

यह बात चैपिंयन को नागवार गुजरी और वह खुद ही दुकान स्वामी को सबक सिखाने के लिए पहुंच गए। दुकान बंद होने पर चैंपियन ने दुकान स्वामी को बाहर बुलाया और फोन रिचार्ज न करने के एवज में उसे फटकार लगानी शुरू कर दी। दुकान स्वामी ने विरोध किया तो चैंपियन ने अपनी आदत के अनुसार पुन हथियार निकाल लिया और दुकान स्वामी पर तान दिया। चैंपियन को ऐसा करते देख लोगा भी विरोध में आ गए और उन लोगों ने हल्ला मचा दिया। उस वक्त चैंपियन अपने समर्थकों के साथ वहां से चले गए। उधर बुधवार को युवक के परिजन एवं अन्य स्थानीय लोग चैंपियन की शिकायत लेकर एसएसपी केवल खुराना के पास पहुंचे और उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

लिखित शिकायत मिलने के बाद एसएसपी ने डालनवाला पुलिस को तत्काल चैंिपयन के खिलाफ मामला दर्ज करने के निर्देश दिए। प्रभारी निरीक्षक डालनवाला चंदन सिंह बिष्ट के अनुसार चैंपियन के खिलाफ अलग-अलगल धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। मालूम हो कि चैंपियन के कारनामे हाल ही में सरकार को भी खासा परेशान कर चुके हैं। उनकी हरकतों के कारण सीएम ने उनसे वन विकास निगम का पद तक छीन लिया था जिस पर चैंपियन ने सीएम पर कई आपत्तिजनक टिप्पणियां तक कर दी थीं। इससे पूर्व कुंवर प्रणव चैंपियन ने कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के घर पर फायर कर सनसनी पैदा कर दी थी, हालांकि विधान सभा सत्र से ठीक एक दिन पहले की गयी इस फायरिंग के खिलाफ मौके पर मौजूद कोई भी नेता कुछ बोलने को तैयार नहीं हुआ, यहां तक की जो गोलीबारी से घायल हुए थे उन्हेांने भी अपने मुंह सी लिए थे। विवादों से चैंपियन का पुराना नाता है। अपनी हरकतों के कारण चैंपियन न केवल अपने क्षेत्र में बल्कि सरकार के साथ-साथ आम जन के लिए भी मुसीबतें पैदा करते आए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You