संगीत के जरिए पड़ोसी देशों के लोगों को जोडऩे की पहल

  • संगीत के जरिए पड़ोसी देशों के लोगों को जोडऩे की पहल
You Are HereNational
Thursday, November 07, 2013-11:49 AM

नई दिल्ली: केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने भारत और पाकिस्तान के लोगों के बीच के रिश्तों को मजबूत बनाने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि सुरों और संगीत के जरिए पड़ोसी देशों के बीच अमन की नई मशाल जलाई जा सकती है।

उन्होंने कल शाम यहां आयोजित संगीत संध्या ‘इबादत-ए-अमन’ के मौके पर कहा कि संगीत के जरिए अमन के संदेश को फैलाया जा सकता है और इस तरह के आयोजनों के जरिये न केवल पूरे दक्षिण एशिया में बल्कि पूरी दुनिया में अमन कायम किया जा सकता है। अहसास फाउंडेशन और सेंट स्टीफेंस सोसायटी की ओर से आयोजितव ‘इबादत-ए-अमन’ के मौके पर पाकिस्तान के सूफी गायक उस्ताद शफाकत अली खान और कवि एवं गजल गायक एवं गीतकार संदीप सिलास दीप ने सूफी कलाम एवं गजल पेश की।

इस मौके पर कला, संस्कृति, समाज सेवा, राजनीति और मीडिया से जुड़ी अनेक हस्तियां मौजूद थीं। संवाद समिति साहित्य और संस्कृति से जुड़ी अनेक हस्तियां मौजूद थी इनमें राष्ट्रीय संवाद समिति यूनाइटेड न्यूज ऑफ इंडिया के अध्यक्ष विश्वास त्रिपाठी, नेहरू युवक केंद्र संगठन के उपाध्यक्ष वी पी सिंह, योजना आयोग की सदस्य सुधा पिल्लई, प्रशासनिक अधिकारी जी के पिल्लई और इंडिया हैबिटाट सेंटर के निदेशक राज लिबराहन भी मौजूद थे।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You