अकालियों ने फिलहाल रोकी अपनी लिस्ट

  • अकालियों ने फिलहाल रोकी अपनी लिस्ट
You Are HereDelhi Election
Sunday, November 10, 2013-5:22 PM

नई दिल्ली (सुनील पाण्डेय) : शिरोमणि अकाली दल (बादल) ने भाजपा के आगे दबाव बनाकर भले ही 4 सीटें हासिल कर ली हो,लेकिन कांग्रेस पार्टी से वह सहमी हुई है। यही कारण है कि वह अपने प्रत्याशियों के नाम सार्वजनिक नहीं कर रही है।

पार्टी के मुखिया सुखबीर सिंह बादल ने शनिवार को दिल्ली में अपने सरकारी आवास पर अकालियों की बैठक बुलाई और गोपनीय तरीके से सभी प्रत्याशियों के नाम भी फाइनल कर दिए। पार्टी प्रमुख ने चारों सीटों पर लडऩे वाले प्रत्याशियों को स्पष्ट कह दिया है कि वह मैदान में उतर जाएं, उनके नाम की सार्वजनिक घोषणा बात में होती रहेगी। देर शाम हरी झंडी मिलतेे ही सभी प्रत्याशी अपने इलाकों में दबे पांव चुनाव अभियान का श्रीगणेश भी कर दिया है। उन्हें कहा गया है कि वह तत्काल अपना चुनावी कार्य शुरू कर दें।

सूत्रों की माने तो आज पार्टी हाईकमान ने जो नाम फाइनल किए हैं, उनमें राजौरी गार्डन विधानसभा सीट से दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा को टिकट दिया गया है। इसके अलावा चर्चित सीट हरीनगर, जो भाजपा से छीनी गई है, वहां से भाजपा के ही नेता एवं साउथ दिल्ली नगर निगम का नेता सदन सुभाष आर्या को लड़ाया जा रहा है। उन्हें इसी हफ्ते विधिवत रूप से अकाली दल में शामिल करवाया जाएगा।

अकाली दल की झोली में आई तीसरी सीट पूर्वी दिल्ली की शाहदरा विधानसभा सीट है, जहां से पार्षद जितेंद्र सिंह शंटी को टिकट दिया गया है। शाहदरा सीट भी सिख बहुल मानी जाती है। इस विधानसभा में पड़ते 4 पार्षदों में से 2 पार्षद शंटी के परिवार से ही हैं, इसलिए इस सीट पर शंटी का बर्चस्व अच्छा माना जा रहा है।

यही कारण है कि पार्टी ने उनपर दांव खेला है, जबकि चौथी सीट दक्षिणी दिल्ली में पड़ती कालकाजी विधानसभा सीट है। यहां से दिल्ली कमेटी के सदस्य हरमीत कालका को उतारा गया है। सूत्रों के मुताबिक शाम हाईकमान ने पार्टी की उच्चस्तरीय बैठक बुलाई और सभी प्रत्याशियों का नाम फाइनल करने के साथ ही सभी की ड्यूटियां भी लगा दी।

बताते हैं कि आज देर शाम चारों प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया जाना था लेकिन ऐन वक्त पर इसे रोक दिया गया। चूंकि शनिवार की शाम कांग्रेस पार्टी की लिस्ट भी आनी थी और उसी के बाद अकालियों की लिस्ट का प्रोग्राम तय था लेकिन जब कांग्रेस की लिस्ट नहीं आई तो अकाली दल ने भी अपनी लिस्ट को रोक दिया। वैसे सूत्र बताते हैं कि अगर कांग्रेस रविवार को करती है तो अकाली सोमवार को अपने नाम सार्वजनिक कर देंगे।

Edited by:Jeta
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You