दंड से बचना है तो जल्द चुकाए सेवाकर : चिंदबरम

  • दंड से बचना है तो जल्द चुकाए सेवाकर : चिंदबरम
You Are HereNational
Monday, November 11, 2013-9:06 PM

नई दिल्ली: वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने 10 लाख सेवाकर डिफाल्टरों को कड़ी चेतावनी देते हुए आज कहा कि अगर वे दंड से बचना चाहते हैं तो अपना कर चुकाकर पाक साफ बनें। उन्होंने उद्योग मंडलों के प्रतिनिधियों से कहा, हम एक छोर तक पहुंच चुके हैं जहां, अब हमें रूकना होगा, हालात की समीक्षा करते हुए आपसे बात करनी होगी और प्रणाली में बदलाव की एक उचित व व्यावहारिक पेशकश करनी होगी।

वित्तमंत्री के अनुसार कर को कड़े तरीके से लागू करने से पहले चूककर्ताओं को भुगतान के लिए मनाना होगा। वे विभिन्न व्यापार व उद्योग संगठनों तथा उद्योग मंडलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर रहे थे ताकि उन्हें स्वैच्छिक अनुपालन प्रोत्साहन योजना (वीसीईएस) का लाभ उठाने को प्रोत्साहित किया जा सके। चिदंबरम ने कहा, े वीसीईएस यही है। जिस किसी ने सेवाकर नहीं चुकाया है वह पुरानी बातों को पीछे छोड़कर अपने कारोबार का नया अध्याय शुरू करे।

चिंदबरम ने कहा कि कुल 17 लाख पंजीबद्ध सेवा कर दाता हैं जिनमें से केवल सात लाख ही भुगतान कर रहे हैं। उन्होंने कहा, यह योजना उन दस लाख लोगों पर लक्षित है जो कर नहीं देते या जिन्होंने कर देना बंद कर दिया है। इन 10 लाख में से ज्यादातर ने कर नहीं चुकाया या फाइल नहीं किया। अनेकों ने एक अवधि तक कर चुकाने के बाद बंद कर दिया। मुझे नहीं पता कौन चतुर है, जिसने कभी नहीं चुकाया या जिसने चुकाना बंद कर दिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You