सज्जन के पुत्र को टिकट देने पर विरोध

  • सज्जन के पुत्र को टिकट देने पर विरोध
You Are HereNational
Saturday, November 16, 2013-9:56 PM

नई दिल्ली :  कांग्रेस पार्टी द्वारा दिल्ली विधानसभा चुनावों में 1984 सिख दंगों के मुख्य आरोपी सज्जन कुमार के पुत्र जगप्रवेश कुमार को संगम विहार से टिकट देने पर अकाली दल ने कड़ा विरोध जताया है।

अकाली दल ने दंगा पीड़ितों के जख्मों पर नमक छिड़कने एवं इन्साफ प्राप्ति को पटरी से उतारने वाली कारगुजारी करार दिया है। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी एवं शिरोमणी अकाली दल दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के. ने दावा किया कि 29 साल बाद भी इन्साफ की बाट जोह रही सिख कौम के होंसले को पस्त करने के लिए कांग्रेस ने यह सोची समझी साजिश रची है।

उन्होंने कहा कि सज्जन कुमार को सरकारी छतरी के नीचे सुरक्षा देने वाली कांग्रेस सरकार नहीं चाहती कि  सज्जन कुमार या उसके परिवार पर इस कत्लेआम की जांच की आंच आए क्योंकि अगर सज्जन को अदालत 84 मामले में दोषी करार देती है तो इस बात की संभावना है कि अपने को फंसता  देखकर सज्जन कु मार 1984 में प्रधानमंत्री निवास में बैठकर इस कत्लेआम की साजिश रचने वाले लोगों के नाम ना उजागर कर दे।

अकाली दल द्वारा 2009 में लोकसभा चुनावों के दौरान सज्जन और जगदीश टाइटलर की टिकटें सड़कों पर मोर्चा लगाकर कटवाने का दावा  किया। कांग्रेस ने पहले उसके भाई और अब उसके पुत्र को टिकट  देकर 84 पीड़ितों को बेगानगी का अहसास करवा दिया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You