आसाराम आश्रम भगवती नगर का मामला: भोलानाथ को 22 नवम्बर तक मिली जमानत

  • आसाराम आश्रम भगवती नगर का मामला: भोलानाथ को 22 नवम्बर तक मिली जमानत
You Are HereNational
Sunday, November 17, 2013-2:45 PM

जम्मू: स्पैशल मोबाइल मेजिस्ट्रेट पैसेंजर टैक्स वी.एस. मन्हास ने भगवती नगर स्थित आसाराम आश्रम में बालिकाओं की अस्थियां दबाने के मामले में पूर्व केयरटेकर विनोद गुप्ता उर्फ भोलानाथ पुत्र बाल गोपाल गुप्ता निवासी मल्हार महाराष्ट्र को 22 नवम्बर तक जमानत दे दी। आसाराम आश्रम भगवती नगर में बच्चों के कंकाल दबाए जाने की अफवाह उड़ा कर सनसनी फैलाने के आरोपी भोलानाथ को पुलिस ने 13 नवम्बर गिरफ्तार करने के उपरान्त पुलिस ने पांच दिन की रिमांड पर लिया है।

पुलिस केस के अनुसार विक्रांत शर्मा ने भोलानाथ के खिलाफ नवाबाद पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत के अनुसार भोलानाथ ने उसे आश्रम में कंकाल दबाने को कहा। भोलानाथ ने फोन पर उसे बापू आसाराम को साजिश के तहत फंसाने के मकसद से अस्थियों का प्रबंध करने को कहा। शिकायत मिलने पर पुलिस साजिश का पर्दाफाश करने के लिए जुट गई और टेलीफोन पर बातचीत रिकार्ड करना शुरू कर दिया। पुलिस ने भोलानाथ के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू की थी। भोलानाथ को पकडऩे के लिए मुम्बई सहित कई राज्यों में जम्मू पुलिस ने दबिश दी परन्तु वह के हत्थे नहीं चढ़ पाया। पुलिस के अथक प्रयासों के चलते पुलिस ने बुधवार को उसे गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर लिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You