ट्रेड फेयर में महिला गैंग से रहें सावधान

  • ट्रेड फेयर में महिला गैंग से रहें सावधान
You Are HereNcr
Monday, November 18, 2013-2:42 PM

नई दिल्ली (महेश चौहान): प्रगति मैदान में भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला आम लोगों के लिए कल से खुल जाएगा। दिल्ली पुलिस ने भी उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं लेकिन पिछले कुछ सालों में जिस तरह से जेब तराशी के मामले सामने आए हैं और उसमें महिला गैंग जिस तरह से सामने आया है, उसको लेकर पुलिस अधिकारी काफी चिंतित हैं।

इसे देखते हुए महिला पुलिस को सादी वर्दी में मैदान के अंदर और बाहर तैनात किया है। इसके अलावा संदिग्ध महिलाओं पर सी.सी.टी.वी. कैमरों से भी नजर रखी जाएगी। पुलिस अधिकारी बताते हैं कि इस गैंग में नाबालिग से लेकर 35 साल तक की महिलाऐं सक्रिय हैं।गैंग की लड़कियां अच्छे कपड़े पहनकर सामने वाले को अपनी ओर आकर्षित करती हैं।

इस गैंग की लड़कियां सामने वाले को अपनी मोहनी जुबान से भी आकर्षित करने की कला रखती हैं। उन्होंने बताया कि इस तरह के गैंग जेब तराशी, बैग लिफ्टंग  और चेन झपटमारी की वारदातों को अंजाम देने में माहिर होते हैं। जब यह गैंग किसी युवक की जेब पर हाथ साफ करते वक्त पकड़ा जाता है, तब वह पीड़ित युवक को छेडख़ानी के मामले में फसाने की धमकी देने से बिल्कुल नही हिचकिचाती हैं। जिसके बाद युवक खुद को फंसता देखकर पुलिस को शिकायत नहीं करता है।

उन्होंने बताया कि इसके पीछे पीड़ित यह भी सोचता है कि कहीं शिकायत करने पर पुलिस वाले उसे ही सचमुच दोषी न मान लें, इसलिए वह चुप हो जाता है और आपबीती किसी को नहीं बताता। यह गैंग युवकों की जेबों पर और महिलाओं के बेग और गले में पहनी चैन पर ज्यादा ही नजर रखता है।

ऐसे गैंगों के बारे में पुलिस के आला अधिकारी बताते हैं कि इन गैंग की सदस्य लड़कियां पुरानी दिल्ली, तिमारपुर, सानिया विहार, सुल्तानपुरी, मंगोलपुरी, शाहबाद डेयरी आदि इलाके की हैं। जो चलती बसों, मैट्रो, रेलवे स्टेशनों पर सक्रिय होकर जेब तराशी की वारदातों को अंजाम देती हैं। दिल्ली में इस तरह के आधा दर्जन के करीब महिला गैंग वारदातों को अंजाम दे रही हैं।

अब जब ट्रैड फेयर आम पब्लिक के लिए शुरू हो चुका है, यह गैंग यहां आकर वारदातों को अंजाम देने की पूरी कोशिश करेगा। पुलिस का पब्लिक से आग्रह है कि वह खुद भी चौकन्ने रहें। साथ ही किसी वारदात को देखने पर अनदेखी न करें, वारदात को देखते ही पास ही तैनात पुलिसकर्मी को सूचित करें। इसके लिए आप बेशक अपना नाम न बताए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You