वीरभद्र सिंह के खिलाफ सी.बी.आई जांच की मांग

  • वीरभद्र सिंह के खिलाफ सी.बी.आई जांच की मांग
You Are HereNational
Wednesday, November 20, 2013-6:29 PM

नई दिल्ली: हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए एक जनहित याचिका दिल्ली उच्च न्यायालय में दायर की गई है। इस याचिका में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के खिलाफ सी.बी.आई जांच की मांग की गई है।

वीरभद्र सिंह पर आरोप लगाया गया है कि जब वह केंद्र सरकार में स्टील मंत्री थे, उस समय भ्रष्टाचार में लिप्त रहे हैं। इनके खिलाफ यह जनहित याचिका नामी वकील प्रशांत भूषण ने दायर की है।

मुख्य न्यायाधीश एन.वी.रामना व न्यायमूर्ति मनमोहन की खंडपीठ अब इस मामले में 27 नवम्बर को सुनवाई करेगी। याचिका में कहा गया है कि नॉमिनेशन के समय दायर किए गए कई कागजात जैसे आयकर रिटर्न और हलफनामों से जाहिर हो रहा है कि उस समय कई बड़े निवेश किए गए हैं,जब वह केंद्रीय मंत्री थे।

वह इस मामले में कई बार शिकायत कर चुके हैं परंतु सरकार व उसकी एजेंसी जांच करने को तैयार नहीं हैं। इस संबंध में चीफ विजिलेंस कमीशनर को भी शिकायत कर चुके हैं। इसके अलावा 11 जनवरी को इस मामले में सी.बी.आई को भी शिकायत की थी,परंतु कोई जांच नहीं की गई।

नॉमिनेशन के समय दायर किए गए कागजातों से प्रथम दृष्टया आरोप साबित हो रहे हैं। उसके बाद भी जांच नहीं की जा रही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You