‘मोदी की सभा का खर्च भाजपा प्रत्याशी के खाते में जोड़ा जाए’

  • ‘मोदी की सभा का खर्च भाजपा प्रत्याशी के खाते में जोड़ा जाए’
You Are HereNational
Thursday, November 21, 2013-3:40 PM

जयपुर: राजस्थान प्रदेश कांग्रेस की विधानसभा चुनाव हेतु गठित विधि एवं चुनाव व्यवस्था समिति ने चुनाव आयोग से मांग की है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी एवं स्टार प्रचारक नरेन्द्र मोदी के 19 नवम्बर को प्रदेश के दौरे के दौरान अलवर, भरतपुर, बांदीकुई, सवाईमाधोपुर और दूदू में की गई चुनाव सभाओं तथा भाजपा की प्रदेशाध्यक्ष वसुंधरा राजे द्वारा 19 नवम्बर को फलौदी, सिणधरी, बागौडा, जावल और पिण्डवाडा में की गई सभाओं का खर्च वहां के भाजपा प्रत्याशी के चुनाव खर्च में शामिल किया जाए।

 

प्रदेश कांग्रेस कमेटी की विधि एवं चुनाव व्यवस्था समिति के अध्यक्ष सुशील शर्मा ने जारी बयान में कहा कि 19 नवम्बर को अलवर, भरतपुर, बांदीकुई, सवाईमाधोपुर एवं दूदू में आयोजित चुनावी सभाओं में भाजपा के उम्मीदवार मंच पर रहे और मोदी ने भी उनको जिताने का आह्वान किया और परिचय कराया।

 

इसी प्रकार राजे ने 19 नवम्बर को फलौदी, सिणधरी, बागौडा, आबूरोड, जावल और पिण्डवाडा की सभाओं में फलौदी से भाजपा प्रत्याशी पब्बाराम विश्नोई, गुढामलानी से भाजपा प्रत्याशी लादूराम विश्नोई, सिवाना से भाजपा प्रत्याशी हमीर सिंह, भीनमाल से भाजपा प्रत्याशी पूराराम चौधरी, सिरोही से भाजपा प्रत्याशी ओटाराम देवासी, रेवदर से भाजपा प्रत्याशी जगसीराम कोली, पिण्डवाडा से भाजपा प्रत्याशी समाराम गरासिया को विजयी बनाने की अपील की थी।

 

शर्मा ने बताया कि मोदी तथा राजे का यह कृत्य आदर्श आचार संहिता का खुला उल्लंघन है तथा चुनाव आयोग इस संबंध में संबंधित विधानसभा क्षेत्रों के निर्वाचन अधिकारी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी को निर्देशित करें कि मोदी तथा राजे की इन सभाओं का खर्च संबंधित भाजपा प्रत्याशी के चुनाव खर्च में जोड़ा जाए।

 

शर्मा ने बताया कि इसी प्रकार कुम्भलगढ़ विधानसभा क्षेत्र के आमेट कस्बे में 18 नवम्बर को शांतिनाथ चौराहे के समीप नाकाबंदी केदौरान कार संख्या आर जे 27 यूबी 3663 को एसएसटी की टीम ने रोक लिया था। कार में लाखों रुपए पड़े हुए थे और कार को आमेट थाने लाया गया। पुलिस की मौजूदगी में अपराधी आरोपी आए और पैसे लेकर भाग ग। कांग्रेस ने भाजपा प्रत्याशी सुरेन्द्र सिंह राठौड के खिलाफ कार्रवाई की मांग की हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You