भारत-पाक के बीच ठोस बातचीत नई सरकार से ही होगी: नवाज शरीफ

  • भारत-पाक के बीच ठोस बातचीत नई सरकार से ही होगी: नवाज शरीफ
You Are HereNational
Monday, November 25, 2013-10:56 AM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान प्रधानमंत्री नवाज शरीफ वार्ता ने कहा है कि अब दोनों देशों के बीच ठोस बातचीत नई सरकार से ही होगी। वाजपेयी की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि अपने पूर्व प्रधानमंत्री से सीख लेकर आने वाली भारत की नई सरकार को वार्ता का रास्ता साफ करना चाहिए।

शरीफ के मुताबिक दोनों देशों को वार्ता की मेज पर आकर कश्मीर समेत सभी विवादित मुद्दे हल करने चाहिए। शरीफ ने पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को सही मायने में राजनेता बताया और कहा कि भारत में 2014 में होने वाले लोकसभा चुनाव के बाद आने वाली नई सरकार के साथ ही बातचीत संभव हो सकेगी।

उन्होंने 1999 में दोनों देशों के मजबूत रिश्तों के लिए जो नींव डाली थी, हमें उस पर ही आगे बढऩा चाहिए। वहीं बतां दें कि इससे पहले पाक प्रधानमंत्री के विदेश नीति सलाहकार सरताज अजीज ने भी कहा था कि हमें नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत करने में कोई परहेज नहीं है। शरीफ ने कहा कि वाजपेयी साहब ने एक साल में सभी मुद्दों के निपटारे का एजेंडा बनाया था। उन्होंने कहा कि भारत में आम चुनाव के माहौल के बीच बहुत कुछ पाकिस्तान के खिलाफ बोला जा रहा है।

लेकिन हमें इन चीजों से को दूर करके सोचना चाहिए। उन्होंने मनमोहन सिंह के साथ हुई मुलाकात को सद्भावनापूर्ण बताया। भारत से दोस्ताना संबंध हमारी पार्टी पीएमएल-एन का एजेंडा है। हाल ही में एलओसी पर हुआ युद्धविराम उल्लंघन न तो इस्लामाबाद न ही नई दिल्ली के हित में है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You