अरणिमा को मिलेगा ‘माटी रतन’ पुरस्कार

  • अरणिमा को मिलेगा ‘माटी रतन’ पुरस्कार
You Are HereNational
Tuesday, November 26, 2013-2:46 PM

लखनऊ: एक पैर से एवरेस्ट फतह करने वाली बहादुर बाला अरणिमा सिन्हा को ‘माटी रतन’ पुरस्कार के लिए चुना गया है। सिन्हा को यह सम्मान अमर शहीद अशफाकउल्ला खां के शहीद स्थल फैजाबाद की जेल में एक समारोह में दिया जाएगा। जेल में ही 19 दिसम्बर 1927 को अशफाकउल्ला खां को बहुचर्चित काकोरी कांड का दोषी मानते हुए फांसी पर लटकाया गया था। मशहूर शायर मुनव्वर राणा, अदम गोण्डवी और अनवर जलालपुरी जैसे प्रतिष्ठित लोगों को यह पुरस्कार दिया जा चुका है।

 

इस वर्ष सिन्हा के साथ उर्दू के मशहूर शायर बेकल उत्साही और साहित्यकार अष्टभुजा शुक्ला को सम्मानित किया जाएगा। सन् 1998 में स्थापित शहीद अशफाकउल्ला शोध संस्थान प्रतिवर्ष अपने क्षेत्र में अग्रणी रहने वाले पांच लोगों को सम्मानित करता है लेकिन इस बार यह सम्मान केवल तीन लोगों को ही दिया जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You