जिनके घर मे शौचालय नहीं उनके चुनाव लडऩे पर रोक लगे: सोरेन

  • जिनके घर मे शौचालय नहीं उनके चुनाव लडऩे पर रोक लगे: सोरेन
You Are HereNational
Thursday, November 28, 2013-9:43 AM

रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा आयोजित विश्व शौचालय दिवस पर आयोजित एक सेमिनार सह नियुक्ति पत्र वितरण समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि जिनके घर में शौचालय नहीं है उनके चुनाव लडऩे पर रोक लगा देनी चाहिए। सोरेन ने आज यहां राजधानी रांची के चाणक्य होटल में सेमिनार को संबोधित करते हुए कहा कि हर जन प्रतिनिधि का यह मौलिक दायित्व है कि वह पहले अपने घर में शौचालय की व्यवस्था करे उसके बाद ही अपने लोगों से इस बात की उम्मीद रखे।

 

उन्होंने कहा कि शौचालय निर्माण हेतु प्रयोग किये जाने वाले पैन पर लगने वाले वैट को जल्द ही समाप्त करने का प्रयास किया जायेगा तथा इंदिरा आवास मे भी शौचालय निर्माण पर सरकार गंभीरता से विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि लोग 21वीं सदी में पहुचने के बाद भी शौचालय एवं स्वच्छता के प्रति उनने जागरुक नहीं है। उन्होंने कहा कि विश्व शौचालय दिवस पर संकल्प लेना चाहिए कि हर घर में शौचालय बनाना अनिवार्य हो।

 

उन्होंने कहा कि सरकार का यह लक्ष्य है कि 2017 तक गांव-गांव तक शुद्ध पेयजलापूति सुनिश्चित हो जाए। समारोह में मुख्यमंत्री के हाथों पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में नव चयनित सहायक अभियंताओं को नियुक्ति पत्र तथा अंतर्राष्ट्रीय तीरंदाज खिलाड़ी दीपिका कुमारी के माता-पिता को चार लाख 62 हजार रुपए की राशि देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री जयप्रकाश भाई पटेल ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर विकास हेतु पंचायतों को यथोचित राशि मुहैया करायी जा रही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You