नौकरानी हत्या मामला : अदालत ने धनंजय को जमानत देने से किया इनकार

  • नौकरानी हत्या मामला : अदालत ने धनंजय को जमानत देने से किया इनकार
You Are HereNational
Saturday, November 30, 2013-8:16 AM

नई दिल्ली: अपनी नौकरानी की हत्या के सिलसिले में पत्नी जागृति सिंह के साथ ही गिरफ्तार बसपा सांसद धनंजय सिंह को आज दिल्ली की एक अदालत ने यह कहते हुए जमानत देने से इनकार कर दिया कि वह प्रताडि़त किए जाने की घटनाओं में सक्रिय रूप से शामिल थे, जिससे घरेलू नौकरी की पीड़ा में और इजाफा हुआ।

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने अभियोजन पक्ष और सिंह के वकीलों की दलीलें सुनने के बाद सांसद की जमानत अर्जी पर कल अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था। अदालज ने आज उनकी याचिका को खारिज करते हुए कहा कि अगर उन्हें इस समय जमानत दे दी गई तब वह गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं या पूर्व में 31 जघन्य अपराधों में शामिल होने को ध्यान में रखते हुए साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं।

अदालत ने कहा, ‘‘ यह आवेदनकर्ता या आरोपी (सांसद) की ओर से महज अपनी पत्नी एवं सहआरोपी डा. जागृति सिंह को लगातार इस तरह की प्रताडऩा की घटना से रोकने में विफल रहने का मामला नहीं है बल्कि इसमें सक्रिय रूप से शामिल होने का भी मामला है जिससे उनके घरेलू नौकरों की पीड़ा में इजाफा हुआ।’’

पीठ ने कहा, ‘‘ आरोपी याचिकाकर्ता के हत्या, जबरन वसूली, अपहरण, डकैती समेत 31 जघन्य अपराधों में शामिल होने की पृष्ठभूमि को देखते हुए यह मानना कठिन नहीं है कि अगर उन्हें जमानत दी गई तो वह गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं और न्याय प्रक्रिया में बाधा डाल सकते हैं।’’

अदालत ने कहा कि उन्हें आवेदक या याचिकाकर्त्ता को जमानत देने का कोई आधार नहीं नजर आता है। मजिस्ट्रेट की अदालत से राहत पाने में असफल रहने के बाद सिंह ने सत्र अदालत में जमानत अर्जी दी थी। मजिस्ट्रेट की अदालत ने यह कहते हुए उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी थी कि उनके खिलाफ लगे आरोप बड़े गंभीर हैं और वह अपने पिछले आचरण के चलते किसी भी नरमी के हकदार नहीं हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You