दिल्ली के पॉश इलाके से करोड़ों की ठगी

  • दिल्ली के पॉश इलाके से करोड़ों की ठगी
You Are HereNational
Friday, November 29, 2013-11:32 PM

नई दिल्ली (कुमार गजेन्द्र): दिल्ली के सबसे पॉश इलाके गोल्फ इलाके में करोड़ों की संपत्ति को कौडिय़ों के दामों में खरीदे जाने का मामला सामने आया है। ठगी करने वालों ने संपत्ति मालिक को उस संपत्ति के स्थान पर मैट्रो स्टेशन बनने का डर दिखाकर यह घोटाला किया ।

ठगों ने संपत्ति मालिक को फर्जी मैट्रो अधिकारी बनकर बाकायदा मैट्रो स्टेशन का डेमो भी करके दिखाया था। आॢथक अपराध शाखा में 27 नवम्बर को दर्ज एफ.आई.आर. नम्बर 234 की मानें तो इकबाल चंद खुराना (88) गोल्फ ङ्क्षलक इलाके में परिवार के साथ रहते हैं। वह दिल के मरीज हैं और रिटायर होने के बाद घर पर ही रहते हैं। उनका एक मकान 56 गोल्फ ङ्क्षलक में भी है।

करीब साल भर पहले अचानक उन्हें किसी काम के लिए मोटी रकम की जरूरत पड़ी। अपने काम के लिए उन्होंने 56 गोल्फ ङ्क्षलक वाली संपत्ति को बचने की योजना बनाई। मोलभाव के बाद संजय पाशी से करीब 100 करोड़ में इकबाल चंद का सौदा हो गया।

इसी दौरान एक अन्य हरीश आहूजा ने इकबाल चंद से संपर्क कर संपत्ति को खरीदने की पेशकश कर दी। दोनों में संजय पाशी की रजामंदी पर एक बार फिर संपत्ति बेचने का सौदा हो गया। अभी दोनों की सैल डीड बनकर तैयार ही हुई थी कि तभी बी. परमेश्वरम नाम का एक अन्य व्यक्ति बीच में आ गया। इसने दोनों पार्टियों को बताया कि वह दिल्ली मैट्रो का बड़ा अधिकारी है। जिस स्थान यानी, 56 गोल्फ लिंक का वह सौदा कर रहे हैं, उस स्थान के ठीक नीचे से मैट्रो की सुरंग निकल रही है। इस स्थान पर मैट्रो स्टेशन बनाए जाने की योजना है।

यह बात सुनते ही संपत्ति खरीद रहे लोगों ने उसे खरीदने से इंकार कर दिया। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके साथ ठगी के करने के लिए, आरोपी बी. परमेश्वरम ने बाकायदा मैट्रो स्टेशन का पूरा प्रोजैक्ट बनाकर दिखाया। इसके बाद संपत्ति का एक अन्य को मात्र 43 लाख रुपए में सौदा करवा दिया गया, जिसकी कीमत भी नहीं दी गई और आरोपियों ने संपत्ति पर भी कब्जा ले लिया। इस मामले में कोर्ट के आदेश पर एफ.आई.आर. दर्ज हो गई है, पुलिस मामले की जांच कर रही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You