'भोपाल के सभी वार्डों के गैस पीड़ितों को राहत मिले'

  • 'भोपाल के सभी वार्डों के गैस पीड़ितों को राहत मिले'
You Are HereNational
Tuesday, December 03, 2013-10:09 AM

भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में हुए गैस हादसे के शिकार बने लोगों को श्रद्धांजलि देते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने कहा कि नैसर्गिक न्याय की दृष्टि से सभी वार्डों के प्रभावित परिवारों को राहत मिलनी चाहिए। वर्तमान में 36 वार्डों के प्रभावितों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा व राहत का लाभ मिल रहा है। इस सुविधा से 20 वार्ड वंचित हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा व सांसद कैलाश जोशी ने कहा कि गैस त्रासदी ने मानवता के प्रति कांग्रेस की संवेदना की हकीकत उजागर कर दी है।

 

केंद्र सरकार का यह कहना कि उसके पास यूनियन कार्बाइड के तत्कालीन अध्यक्ष वारेन एंडरसन को किस तरह भोपाल से हिरासत से मुक्त कर सरकारी विमान से जाने का मौका दिया, इसका कोई रिकार्ड भी उपलब्ध नहीं है, यह कांग्रेस की जवाबदेही से बचने और सच्चाई का गला घोंटने की इंतिहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि 29 वर्ष गुजर जाने के बाद भी भोपाल की जनता न्याय से वंचित है। केंद्र सरकार अपनी जवाबदेही के प्रति कतई गंभीर नहीं है।

 

गैस त्रासदी के समय निकला विषैला कचरा निष्पादन के मामले में भी कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार अनिर्णय का शिकार रही, जिसका खामियाजा भोपाल की जनता को भुगतना पड़ रहा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद नरेंद्र सिंह तोमर, प्रदेश संगठन महामंत्री अरविंद मेनन ने पीड़ितों को दी गई सहायता राशि को अपर्याप्त बताते हुए कहा कि पीड़ितों की पांच लाख रुपये की राशि देने की मांग को केंद्र सरकार तत्काल पूरी करे। राज्य सरकार के वरिष्ठ मंत्री बाबूलाल गौर ने कहा कि जिस तरह 36 वार्डों को नि:शुल्क चिकित्सा और राहत दी गई है, शेष बचे 20 वार्डों को भी नैसर्गिक न्याय मिलना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You