बदलाव की आस में युवाओं ने जमकर डाले वोट

  • बदलाव की आस में युवाओं ने जमकर डाले वोट
You Are HereNational
Wednesday, December 04, 2013-11:24 PM

नई दिल्ली: मतदान के लिए भारी संख्या में उमड़े युवा इस बार बदलाव की मांग करते दिखे। दिल्ली विश्वविद्यालय में बने पोलिंग बूथों पर भारी संख्या में युवा वोट डालने पहुंचे। ज्यादातर युवाओं के दिलों में मौजूदा व्यवस्था के प्रति गुस्सा दिखा। युवा छात्राओं ने कहा  कि कई मामलों में मौजूदा सरकार विफल रही है, महिला सुरक्षा जैसे मुद्दों को ध्यान में रखकर इस बार वोट डालेंगी।

तिमारपुर विधानसभा के लिए दिल्ली विश्वविद्यलाय स्थित वोट करने पहुंचे गणेश ने बताया कि पिछले काफी समय से दिल्ली में रहना सुरक्षित महसूस नही हो रहा है। कहा कि दिल्ली में बदलाव देखने को नहीं मिला तो, यहां महिलाओं और बच्चों के लिए रहना मुश्किल हो जाएगा।

पहली बार वोट कर रही वर्षा मलिक ने बताया कि वोट करने को लेकर खासी उत्साहित हैं। इस बार सरकार बनाने में दिए गए अपने योगदान को वे कभ्ी नहीं भूल पाएंगी। मुख्य निर्वाचन कार्यालय के अनुसार इस साल मतदाता सूची में करीब 4.05 लाख ऐसे मतदाताओं को सूचीबद्ध किया गया है जो पहली बार वोट डालेंगे।

कुमार की तरह पहली बार वोट डालने वाले युवाओं ने अपनी अंगुली पर लगे स्याही के निशान को दिखाते हुए अपनी खुशी का इजहार किया। उनमें से अधिकतर का कहना था कि वे भ्रष्टाचार, मूल्यवृद्धि तथा बिजली के बढ़ते बिल से चिंतित हैं जिससे घर का बजट बिगड़ रहा है।

कल्याणपुरी निवासी 22 वर्षीय कृष्ण कुणाल ने कहा कि वह उस समय से वोट डालने का इंतजार कर रहे थे जब से उन्हें मतदाता पहचान पत्र मिला था। गंाधीनगर विधानसभा क्षेत्र में पहली बार मतदान करने गये 19 वर्षीय अंसारी ने बताया कि वह इस दिन का इंतजार कर रहे थे। इससे आप सशक्त महसूस कर रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You