‘बेनी को है मुंह की गंभीर बीमारी’

  • ‘बेनी को है मुंह की गंभीर बीमारी’
You Are HereNational
Thursday, December 05, 2013-9:26 AM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में सत्तारुढ समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदेश प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि बेनी प्रसाद वर्मा पर निशाना साधते हुए कहा कि बेनी को मुंह की गंभीर बीमारी है। इसलिए वह कुछ न कुछ, सही-गलत बोलते ही रहते है। इसके साथ चौधरी ने कहा कि  बेनी बड़बोले हैं और यह उनकी आदत में शामिल हो गया है।  सपा प्रवक्ता और कारागार मंत्री राजेन्द्र चौधरी ने यहां कहा कि सपा में ही उन्हें पद, सम्मान मिला और उनकी हैसियत बनी। जिन मुलायम सिंह यादव ने उनको छोटे भाई की तरह स्नेह दिया उनके उपकार का बदला वह अब अपनी कृतघ्ना से दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजनीति की दुनिया का हर जानकार जानता है कि  यादव साम्प्रदायिकता के कट्टर विरोधी हैं। समाजवादी पार्टी ने फिरकतापरस्त ताकतों की हमेशा खिलाफत की है।

केन्द्र में जिस यूपीए सरकार में इस्पात मंत्री बने हुए हैं उसके कर्णधारों को इस बात के लिए यादव का शुक्रगुजार होना चाहिए कि उनके प्रबल प्रतिरोध के चलते ही भाजपा, एनडीए दिल्ली में सत्ता पर काबिज नहीं हो सकी। इसलिए केन्द्रीय मंत्री का समाजवादी पार्टी पर आरोप झूठ के पिटारे के अलावा कुछ नहीं है। चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों की समस्या के समाधान में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जिस राजनीतिक कौशल सका प्रदर्शन किया वह सराहनीय है। प्रदेश के विभिन्न जिलों में चीनी मिलें चलने लगी हैं। किसानों का गन्ना खत्म होने तक पेराई चालू रहेगी। उन्होंने कहा कि चीनी मिल मालिक किसानों को पिछले पेराई सत्र के बराबर गन्ने का समर्थन मूल्य देने को तैयार हो गये हैं। सरकार ने उनकी समस्याओं को समझकर उनका निदान कर दिया है और किसानों के हितों पर आंच नहीं आने दी है।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय इस्पात मंत्री यह कहते हैं कि उनकी जानकारी में मुलायम सिंह यादव गरीबों की लड़ाई लड़ते रहे हैं तो फिर अनर्गल आरोप लगाने से बाज क्यों नहीं आते हैं। यादव गांव गरीब के हिमायती रहे हैं और पिछडों, मुसलमानों तथा नौजवानों के हितों की लडाई लड़ते रहे हैं। केन्द्रीय मंत्री का किसानों के लिए आंसू बहाना बेवजह है क्योंकि न तो उनका और न ही उनकी वर्तमान पार्टी कांग्रेस का किसानों से कुछ लेना देना रहा है। उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि कांग्रेस की कुरीतियों के चलते ही राज किसान बदहाल है। कांग्रेस पार्टी पूंजीघरानों की पक्षधर है, यह बात बेनी बाबू को अच्छी तरह जान लेना चाहिए। समाजवादी पार्टी सामाजिक न्याय की पार्टी है जो अगड़ों, पिछड़ों के बीच सामंजस्य बनाकर चलती है। उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार में उत्तर प्रदेश के कांग्रेस और रालोद के केन्द्रीय मंत्रियों ने कभी राज्य के हित में बात नहीं की। प्रदेश के विकास की योजनाओं के लिए मदद नहीं दिलाई। वे केवल राज्य में सड़क पर कांटे ही बिछाते रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You