लोकसभा चुनाव में मोदी फैक्टर की चर्चा शुरु

  • लोकसभा चुनाव में मोदी फैक्टर की चर्चा शुरु
You Are HereUttar Pradesh
Sunday, December 08, 2013-5:01 PM

लखनऊ: देश की चार विधानसभा के आज आए चुनाव परिणामों का असर लोकसभा पर कितना पड़ेगा इसकी चर्चा शुरु हो गई है। चर्चा में यह भी शामिल है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का लोकसभा चुनाव में कितना असर रहेगा। राजनीतिक ²ष्टि से सबसे महत्वपूर्ण उत्तर प्रदेश केन्द्र में बनने वाली सरकार का मार्ग तय करेगा क्योंकि इस राज्य में लोकसभा की सर्वाधिक 80 सीटें हैं और यह भी कहा जाता है कि दिल्ली का रास्ता लखनऊ से होकर गुजरता है। जानकारों की मानें तो लोकसभा चुनाव में मोदी फैक्टर रहेगा।

लखनऊ विश्वविद्यालय की डा. राधिका प्रसाद का कहना है कि चुनाव में भ्रष्टाचार और महंगाई तो मुद्दा रहेगा ही साथ ही मोदी फैक्टर का भी असर रहेगा। वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक पाण्डेय ने कहा कि मुजफ्फरनगर दंगों की वजह से उत्तर प्रदेश में मतों का ध्रुवीकरण हुआ है। जो लोग सत्तारुढ शासन से नाराज हुए हैं वे मोदी फैक्टर से प्रभावित हो सकते हैं।  दूसरी ओर गैर भाजपा दलों का कहना है कि लोकसभा चुनाव में मोदी फैक्टर नहीं रहेगा। समाजवादी पार्टी (सपा) तीसरी ताकत की बात कर रही है तो कांग्रेस गुजरात के दंगों की बात कर कहती है कि धर्मनिरपेक्षता को मानने वालों को ही जनता तरजीह देगी। मोस्ट बैकवर्ड क्लासेस आफ इण्डिया (एमबीसीआई) के महासचिव रितेश चौरसिया का कहना है कि समाज के पिछड़े वर्ग को जो तरजीह देगा वही लोकसभा चुनाव में सफल होगा। वह लोकसभा चुनाव में मोदी फैक्टर के प्रभाव से इंकार करते हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You