जबरन अनशन बंद करवाया तो जल भी त्याग दूंगा : अन्ना

  • जबरन अनशन बंद करवाया तो जल भी त्याग दूंगा : अन्ना
You Are HereNational
Wednesday, December 11, 2013-6:29 PM

रालेगण सिद्धी: गांधीवादी सामाजिक कार्यकर्त्ता अन्ना हजारे ने कहा है कि अगर उनका अनशन जबरन समाप्त कराने की कोशिश की गई तो वह जल भी त्याग देंगे। उन्होंने आज बंद का आह्वाण करते हुए जन लोकपाल विधेयक राज्य सभा में यथाशीघ्र पारित किए जाने की मांग की। अनशन का आज दूसरा दिन है।

हजारे के करीबी सुरेश पठारे ने यूनीवार्ता से कहा कि अन्ना ने यह प्रण कर लिया है कि जब तक जन लोकपाल विधेयक राज्य सभा में पारित नहीं हो जाता उनका अनशन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि आज शाम एक विशाल रैली आयोजित की जायेगी और शाम 6 बजे हजारे ग्रामसभा को संबोधित करेंगे। इस बीच हजारे ने कहा कि उन्हें मालूम हुआ है कि स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए उनका अनशन जबरन समाप्त कराने की योजना बनाई जा रही है।

अन्ना ने कहा अगर ऐसा होता है तो मैं पानी पीना भी बंद कर दूंगा। उन्होंने लोगों से अपने-अपने स्थान से आंदोलन करने को कहा। उन्होंने कहा भीड़ जमा करना हमारा ध्येय नहीं है। यह पूछने पर कि क्या अरविन्द केजरीवाल के इस आंदोलन में शामिल नहीं होने से लोगों की संख्या कम है। उन्होंने कहा नहीं ऐसा नहीं है। केजरीवाल ने हम से कोई संपर्क नहीं किया है और न ही आंदोलन को किसी तरह का समर्थन दिया है। इस बीच हजारे के चिकित्सक डा. शार्दूल देशपांडे ने कहा हम लोग हजारे के स्वास्थ्य पर कड़ी नजर रखे हुए हैं। अन्ना स्वस्थ हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You