जदयू सदस्यों ने नीतीश को लिखे पत्र पर शिंदे से माफी मांगने को कहा

  • जदयू सदस्यों ने नीतीश को लिखे पत्र पर शिंदे से माफी मांगने को कहा
You Are HereNational
Thursday, December 12, 2013-2:41 PM

नई दिल्ली: जनता दल (यू) के बिहार में नक्सलवाद की समस्या पर केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की टिप्पणी की कड़े शब्दों में निन्दा की है और उनसे उनकी टिप्पणी वापस लेने की मांग की है। पार्टी के प्रवक्ता के.सी. त्यागी ने यह भी कहा है कि शिंदे को अपनी इस टिप्पणी के लिए अविलम्ब माफी मांगनी चाहिए। गौरतलब है कि आज राज्यसभा में भी जद (यू) के सांसदों ने शिंदे की इस टिप्पणी को लेकर हंगामा किया और उनसे इस टिप्पणी के लिए माफी मांगने को कहा।

त्यागी ने यूनीवार्ता से कहा कि शिंदे ने बिहार सरकार के विरूद्ध जो टिप्पणी की है, उनसे हमारी पार्टी के लोग आहत है। नक्सलवाद की समस्या केन्द्र की नीतियों के कारण ही पैदा हुई है और यह केवल बिहार में नहीं, बल्कि छत्तीसगढ, मध्यप्रदेश, आंध्रप्रदेश और झारखंड तथा महाराष्ट्र के लातोर में भी है। देश के करीब 70 जिले इससे प्रभावित हैं और इन जिलों में रेड अलर्ट भी जारी हो चुका है। ऐसे में शिंदे केवल बिहार को इस तरह क्यों निशाना बना रहे है।

उन्होंने कहा कि हम शिंदे के सुझावों का स्वागत करते है पर जिस अंदाज में उन्होंने टिप्पणी की है उसकी हम ङ्क्षनदा करते है। शिंदे को अपनी टिप्पणी वापस लेनी चाहिए और उन्हें इसके लिए माफी भी मांगनी चाहिए। गौरतलब है कि शिंदे ने पिछले दिनों बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर राज्य में नक्सलवाद को रोकने में विफलता के लिए वहां की सरकार को दोषी ठहराया है। त्यागी ने कहा कि नक्सलवाद किसी राज्य विशेष की समस्या नहीं बल्कि वह राष्ट्रीय समस्या है और केन्द्र सरकार भी यही मानती है। ऐसे में किसी राज्य विशेष को दोषी नहीं ठहराया जा सकता है। इसके लिए केंद्र और राज्य दोनों को मिलकर लडऩा होगा। केन्द्र अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला नहीं झाड सकता है।









 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You