आजम ने कांग्रेस पर साधा निधाना

  • आजम ने कांग्रेस पर साधा निधाना
You Are HereNational
Thursday, December 12, 2013-3:19 PM

लखनऊ: इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ से आतंकवाद के आरोपियों से मुकदमे वापस लेने के उत्तर प्रदेश सरकार के निर्णय का जहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने स्वागत किया है वहीं समाजवादी पार्टी (सपा) ने इसे लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है।  सपा के कद्दावर नेता और राज्य के नगर विकास तथा अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मो. आजम खां ने इस कानून को केन्द्रीय कानून बताया और कहा है कि इसमें केन्द्र सरकार ही निर्णय ले सकती है। अब इस मामले में कांग्रेस फैसला ले। उन्होंने कटाक्ष किया कि खाद्य सुरक्षा विधेयक ज्यादा जरुरी है कि जीवन रक्षा विधेयक। जीवन रक्षा विधेयक अधिक जरुरी है इसलिए कांग्रेस निर्दोष मुस्लिम युवकों को रिहा कराने में गंभीरता से सोचे।

उन्होंने उच्चतम न्यायालय में जाने का भी संकेत दिया क्योंकि उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालय से भी ऊपर उच्चतम न्यायालय है। दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी ने उच्च न्यायालय के निर्णय का स्वागत किया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकान्त बाजपेयी ने कहा कि न्यायालय ने आतंकवाद के आरोपियों को नहीं छोडऩे का ओदश देकर देश को बचाया है।

बाजपेयी ने कहा कि अब यह सोचने का समय आ गया है कि जिस काम को विधायिका और कार्यपालिका को करना चाहिए उसके लिए न्यायपालिका को सामने क्यों आना पड़ रहा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You