सुप्रीम कोर्ट पर हमें पूरा भरोसा था: राबड़ी देवी

  • सुप्रीम कोर्ट पर हमें पूरा भरोसा था: राबड़ी देवी
You Are HereNational
Friday, December 13, 2013-2:50 PM

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष और पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले के मामले में सर्वोच्च न्यायालय से जमानत मिलने पर बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि उनके जेल से बाहर आने से पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं का मनोबल बढेगा। राबड़ी देवी ने जमानत की खबर मिलने के बाद यहां अपने आवास पर पत्रकारों से कहा कि उन्हें सर्वोच्च न्यायालय पर पूरा भरोसा था और विश्वास था कि यादव को चारा घोटाले के इस मामले में जरूर जमानत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि न्यायालय के इस फैसले से पार्टी को ही नही बल्कि बिहार और पूरे देश की जनता को खुशी मिली है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यादव के जेल से बाहर आने से पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का मनोबल बढेगा। इससे न सिर्फ राजद बल्कि राजद गठबंधन को भी लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में राजद गठबंधन का भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से सीधा मुकाबला होगा और इस लड़ाई में बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाईटेड (जदयू) की करारी हार होगी।

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने स्वीकार किया कि चारा घोटाला मामले में राजद प्रमुख की दोषसिद्धि और उसके बाद मिली सजा से पार्टी और इसके कार्यकर्ताओं पर हतोत्साहित करने वाला असर पड़ा था, लेकिन उन्होंने इस बात से इनकार किया कि इस घटनाक्रम से पार्टी कमजोर हुई। राजद की चुनावी रणनीति के संदर्भ में उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी धर्मनिरपेक्ष बलों के बीच एकता के लिए काम करते हुए नए उत्साह के साथ आम चुनाव लड़ेगी। अन्य वरिष्ठ राजद नेता और विधानसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक सम्राट चौधरी ने कहा कि आज का दिन शीर्ष अदालत के फैसले का जश्न मनाने का दिन है।

उन्होंने कहा, ‘यह राजद कार्यकर्ताओं के लिए जश्न मनाने का दिन है।’ उच्चतम न्यायालय से लालू को जमानत मिलने पर राजद विधायक भाई दिनेश राज्य विधानसभा परिसर में हर किसी को मिठाई बांटते दिखाई दिए। भोजपुर जिले से विधायक दिनेश ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी मिठाई देने की कोशिश की, लेकिन नीतीश ने विधानसभा के भीतर प्रवेश करते हुए विनम्रतापूर्वक मिठाई लेने से इनकार कर दिया। इसके पूर्व न्यायालय के फैसले के बारे में सुनकर दिनेश ने राज्य विधानसभा में प्रवेश करते हुए लालू के समर्थन में नारे लगाए जिससे विधायकों के बीच जिज्ञासा पैदा हो गई। उच्चतम न्यायालय के फैसले की खुशी में जिलों में राजद नेता और कार्यकर्ता घरों से बाहर निकल आए और वे पटाखे चलाते तथा एक-दूसरे को रंग लगाते देखे गए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You