जुए में नाबालिग बेटी को हार गया पिता

  • जुए में नाबालिग बेटी को हार गया पिता
You Are HereNational
Friday, December 13, 2013-2:59 PM

दिल्ली: जिस तरह महाभारत में पांडव जुए में अपनी पत्नी को हार गए थे, वैसी ही कहानी पश्चिम बंगाल में भी दोहराई गई है। इस कहानी में फर्क बस इतना है कि इसमें पत्नी की जगह बेटी दांव में लगी थी।

जुए की लत में जमीन-जायदाद लुटवा चुके शराबी पिता ने अपनी 13 साल की बेटी की शादी युवक से करने का ऐलान पंचायत के सामने कर दिया। मीडिया में मामला आने के बाद विवा‌ह‌ को रोकने का प्रयास शुरू हो गया है।

टीओआई के अनुसार, मालदा जिले के हबीबपुर गांव का रहने वाला परीमल मंडल जुए की लत के लिए बदनाम है। जुए में अपना सब कुछ हारने के बाद भी उसमें कोई सुधार नहीं हुआ। 4 दिसंबर को नशे में धुत परीमल ऋषिपुर बाजार में एक युवक सुकुमार मंडल से जुए में हार गया। वह हारने के बाद भी वहां से हटने को तैयार नहीं था। दांव पर लगाने के लिए जब उसके पास कुछ नहीं था तब उसने बड़ी बेटी ही दांव पर लगा दी। किसी ने भी इस के खिलाफ आवाज नहीं उठाई। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान उस समय लड़की स्कूल में थी।

जब वह गांव वालों के सामने अपनी बेटी से सुकुमार से शादी का ऐलान कर रहा था तो उस दौरान दो परिवारों ने शादी की तारीख 22 जनवरी भी तय कर दी और 9 दिसंबर को पंचायत के सामने सगाई भी कर दी।

मीडिया को जब इस मामले के बारे में सूचना मिली तो इस शादी को रोकने के लिए जिला प्रशासन और गांव के बड़े-बुजुर्गों पर दबाव डाला जाने लगा। 8वीं क्लास में पढ़ने वाली लड़की ने बताया कि‌ कुछ लड़के उसे छेड़ते थे। इसलिए मेरे पिता ने मेरी शादी करने का निर्णय लिया है।

गुरुवार को परीमल ने कहा, ''मेरी बेटी के लिए जो बेहतर होगा वह मैं करूंगा। आपको इससे क्या मतलब?''

इस घटनाक्रम पर जिला प्रशासन ने गांव के प्रधान से रिपोर्ट मांगी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You