करात ने कहा, आम आदमी पार्टी उदार आर्थिक नीति पर रुख स्पष्ट करे

  • करात ने कहा, आम आदमी पार्टी उदार आर्थिक नीति पर रुख स्पष्ट करे
You Are HereNational
Friday, December 13, 2013-3:24 PM

अगरतला: उदार आर्थिक नीति को भ्रष्टाचार का मुख्य स्रोत बताते हुए माकपा ने आज आम आदमी पार्टी से इस मुद्दे पर अपना रुख स्पष्ट करने को कहा है। माकपा महासचिव प्रकाश करात ने पार्टी के मुखपत्र डेली देशेर कथा को त्रिपुरा में दिए साक्षात्कार में कहा कि आप भ्रष्टाचार के खिलाफ अपने आंदोलन से प्रभाव में आई और उसने साफ-सुथरी सरकार देने के संकल्प के साथ दिल्ली विधानसभा चुनाव लड़ा। आज प्रकाशित इंटरव्यू में करात ने कहा है कि आप ने नव उदार आर्थिक नीति जैसे अनेक नीतिगत मुद्दों पर अपना रख स्पष्ट नहीं किया है जो भ्रष्टाचार का मुख्य स्रोत है।

 

उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए आप पार्टी जब तक उदार आर्थिक नीति के बारे में अपनी स्थिति स्पष्ट नहीं करती , तब तक हमारे लिए नई पार्टी के संबंध में सही धारणा बना पाना संभव नहीं है।’’ करात के मुताबिक आप को दिल्ली में मध्यम वर्ग और गरीबों का वोट मिला है और जनता ने उनमें विकल्प खोजने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भाजपा केवल राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी को पेश करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन अपनी जन-विरोधी नीतियों को बदलने के बारे में कुछ नहीं कह रहे।

 

माकपा नेता ने कहा कि उनकी पार्टी केंद्र की जन-विरोधी नीतियों और सांप्रदायिकता के खिलाफ संघर्ष करती रहेगी और इन दोनों मुद्दों पर गैर-कांग्रेसी और गैर-भाजपाई दलों को जोडऩे का प्रयास करेगी। उन्होंने कहा कि माकपा लोकसभा चुनावों के दौरान अनेक राज्यों में समान विचारों वाले दलों के बीच सहमति बनाने का भी प्रयास करेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You