हरियाणा: चौटाला को जेल की सजा और खेमका मुद्दे छाए रहे वर्ष भर

  • हरियाणा: चौटाला को जेल की सजा और खेमका मुद्दे छाए रहे वर्ष भर
You Are HereNational
Thursday, December 19, 2013-2:35 PM

चंडीगढ़: पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला को टीचर भर्ती घोटाला मामले में जेल की सजा हो या व्हिस्लब्लोअर आईएएस अधिकारी अशोक खेमका के खिलाफ आरोपपत्र का मामला हो  कुल मिलाकर हरियाणा बीत रहे वर्ष में गलत कारणों से ही सुर्खियों में बना रहा । हरियाणा की राजनीति में सत्तारूढ़ पार्टी में इस वर्ष गुटवाद और आंतरिक कलह प्रमुख समस्याएं रहीं जहां उसे अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में सत्ता विरोधी लहर, आप के उभार, इनेलो के रूप में मजबूत विपक्ष और हरियाणा जनहित कांग्रेस भाजपा गठबंधन से पैदा हुई चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा।
 
इस वर्ष ऐसी अटकलें लगार्इ जा रही थीं कि हरियाणा जनहित कांग्रेस ( एचजेसी) और भाजपा में अलगाव हो जाएगा लेकिन इसके अध्यक्ष और हिसार से सांसद कुलदीप बिश्नोई भाजपा के साथ अपने संबंधों को मजबूत बनाने में कामयाब रहे। 1991 बैच के आईएएस अधिकारी खेमका इस समय हरियाणा सरकार के  अभिलेखागार विभाग में सचिव हैं और वे पूरे साल विभिन्न कारणों से चर्चाओं में बने रहे।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा और रियेलिटी सेक्टर की बड़ी कंपनी डीएलएफ के बीच एक भूमि सौदे को रद्द करने संबंधी मामले में दिसंबर में राज्य सरकार के आरोपपत्र में खेमका का नाम दर्ज किया गया है। हालांकि खेमका को इनेलो और भाजपा समेत विभिन्न पक्षों से समर्थन मिला है जिन्होंने एक ‘‘ईमानदार अधिकारी’’ के पीछे पडऩे के लिए राज्य सरकार की आलोचना की है। हालांकि आप ने खेमका को राज्य में पार्टी की अगुवाई करने की पेशकश दी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You