चंबल में फिर से छाया डकैतों का खौफ

  • चंबल में फिर से छाया डकैतों का खौफ
You Are HereNational
Wednesday, December 25, 2013-10:07 PM

नई दिल्ली: चंबल की घाटी में लोगों में फिर से डकैतों का खौफ छाने लगा है। लोगों का कहना है कि घोड़े की हिनहिनाहट भी सुनाई देने लगी है। कुछ दिनों के अंतराल के बाद हाल में किडनैपिंग और लूटपाट के भी कई नए मामले सामने आने लगे हैं।

करौली, धोलपुर और भरतपुर जिलों में लोगों में खासकर डर का माहौल  है। लोगों का कहना है कि पिछले दिनों भले ही पुलिस ने डाकुओं को सरेंडर करने पर मजबूर कर उन्हें पकड़ा हो लेकिन नए डकैत अब पैदा हो गए हैं। डांग और मेवात रीजन में अगर कोई कार्रवाई नहीं की गई तो लोगों में डर है कि फिर से हालात बेकाबू हो सकते हैं।

करौली के घड़ेता गांव के सरपंच श्रीधर जातव को हाल में भी भय का सामना करना पड़ा है। दो डकैतों उनसे पत्र लिखकर 51 हजार रुपए की मांग की है और नहीं देने पर भाई श्रीफूल को मारने की धमकी भी दी है।

कुछ दिन पहले बांध बना रहे मजदूरों को एक कागज मिला जिसपर लिखा था जब तक कागज का दूसरा टूकड़ा नहीं मिल जाए, काम शुरू मत करना। डकैत कांट्रैक्टर से प्रोटेक्शन मनी की डिमांड कर रहे हैं। एंटी डकैत दल ने दावा किया था कि उन्होंने 2011 में 100 डकैतों को गिरफ्तार किया है।

हालांकि करौली से एसपी योगेश यादव का कहना है कि बंटी मीना और राजकुमार नामक दो आरोपी इन क्राइम में शामिल हैं। पुलिस ने दावा किया है कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम सक्रिय है जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You