मनचलों को रास आ रही मैट्रो की सवारी

  • मनचलों को रास आ रही मैट्रो की सवारी
You Are HereNational
Monday, January 06, 2014-3:57 PM

नई दिल्ली (कृष्ण कुणाल सिंह): दिल्ली में लाइफ लाइन के नाम से मशहूर दिल्ली मैट्रो न केवल आम आदमी की बल्कि दिल्ली के मनचलों व शराबियों की पसंद बन गई है। दिल्ली पुलिस की आंकड़ों की मानें तो मैट्रो प्रशासन की लाख कोशिशों के बावजूद 2013 में मैट्रो के अंदर महिलाओं के लिए बनी स्पेशल कोच में मनचले जाने से पीछे नहीं रहे।

वहीं इस साल शराब पीकर यात्रियों ने भी मैट्रो का जमकर इस्तेमाल किया। मैट्रो प्रशासन की मानें तो 2012 में सिर्फ शराब पीकर यात्रा करने वाले 591 लोगों के चालान काटे गए थे जबकि 2013 में यह आंकड़ा करीब 10 गुना बढ़कर 5587 हो गया। वहीं 2012 में जहां महिला बोगी में घुसने पर करीब 10 हजार 4 मनचलों के चालान काटे गए थे।2013 में मनचलों के खिलाफ 15873 चालान काटे गए।

दिल्ली पुलिस के मुताबिक 2013 मैट्रो प्रशासन ने कुल 15873 चालान में 65 डी.पी. एक्ट के तहत 11078, जबकि सी.आर.आई.एस. के तहत 1632, ड्रिंकिग के तहत 5587 चालान काटे गए। 2012 में 65 डी.पी. एक्ट के तहत 4275, सी.आर.आई.एस. के तहत 751 और ङ्क्षड्रकिंग के तहत 591 चालान काटे गए थे। पुलिस अधिकारियों के अनुसार मैट्रो प्रशासन की तरफ से ज्यादा से ज्यादा यह कोशिश की जाएगी की यात्री शराब पीकर यात्रा न करें या महिलाओं के कोच के अंदर प्रवेश न कर सकें। हालांकि 2013 में मैट्रो प्रशासन मैट्रो व मैट्रो परिसर के अंदर से करीब 206 अपराधियों को भी पकडऩे में सफल रही।

दिल्ली पुलिस की मानें तो एक को हत्या की कोशिश, 6 को लूटपाट, एक स्नैचिंग, 22 चोरी,101 जेबतराशी, 4 ऑटो लिफ्टर, 7 चोरी, 4 ठगी, 3 ड्रग्स 10 आम्र्स एक्ट, जबकि 57 को अन्य अपराध के आरोप में गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा आरोपियों के पास से 3 देशी पिस्टल, 23 जिंदा कारतूस, 8 किलो गांजा, 2 किलो चरस, 6 लाख के इलैक्ट्रॉनिक सामान समेत करीब 11 लाख 34 रुपए बरामद किए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You