महिला को चलती ट्रेन से नीचे फेंकने के आरोपी पुलिसकर्मियों को क्लीन चिट

  • महिला को चलती ट्रेन से नीचे फेंकने के आरोपी पुलिसकर्मियों को क्लीन चिट
You Are HereNational
Wednesday, January 08, 2014-3:15 PM

मुजफ्फरनगर: राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने चलती ट्रेन से एक महिला को नीचे ढकेलने के मामले में यहां की एक स्थानीय अदालत में दायर अपनी अंतिम रिपोर्ट में आरोपी आरपीएफ के दो कर्मियों को क्लीन चिट दे दी है। इस मामले में महिला की मौत हो गई थी। जीआरपी ने कल मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट नरेंद्र कुमार के समक्ष कल दायर एक रिपोर्ट में सबूतों के अभाव के चलते आरोपी कर्मियों को क्लीन चिट दे दी। यह घटना गत वर्ष 27 फरवरी की है।
 
राजेश्वर दत्त त्यागी द्वारा जीआरपी पुलिस थाने में दर्ज करायी गई शिकायत के अनुसार उसने और उसकी पत्नी संतोष ने सामान्य श्रेणी का टिकट खरीदा था और गलती से दिल्ली-देहरादून शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन में चढ़ गए। शिकायत में आरोप लगाया गया है कि ड्यूटी पर तैनात आरपीएफ के दो कर्मियों ने ट्रेन के मुजफ्फरनगर से रवाना होते ही एक तीखी बहस के बाद दोनों को ट्रेन से नीचे धक्का दे दिया। संतोश पटरी पर गिरी और उसकी शताब्दी एक्सप्रेस से कटकर मौत हो गई जबकि राजेश्वर बच गया।
 
राजेश्वर के अनुसार वह अपनी पत्नी के साथ सहारनपुर के देवबंद में एक अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने के लिए जा रहा था ,लेकिन वे दोनों गलती से शताब्दी एक्सप्रेस में चढ़ गए। शिकायत के आधार पर आरपीएफ उप निरीक्षक रामचंद्र और सिपाही सुभाष के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया। इस बीच अंतिम रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया में पीड़िता के परिवार ने कहा कि वह पुलिस की रिपोर्ट स्वीकार नहीं करेंगे और अदालत में विरोध दर्ज कराएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You