‘प्रियंका की मुलाकात का कोई राजनीतिक अर्थ नहीं’

  • ‘प्रियंका की मुलाकात का कोई राजनीतिक अर्थ नहीं’
You Are HereNational
Wednesday, January 08, 2014-8:11 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस ने आज स्पष्ट किया कि प्रियंका वाड्रा अपने भाई एवं पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के आवास पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से शिष्टाचार के नाते मिली थी और इस मुलाकात का राजनीतिक मतलब नहीं निकाला जाना चाहिए। कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यहां संवाददाताओं से कहा कि राहुल के आवास पर पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं की बैठक चल रही थी जिसमें पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा उपाध्यक्ष राहुल के कार्यक्रमों पर विचार किया जा रहा था। इस दौरान प्रियंका वाड्रा वहां पहुंची तो उन्होंने शिष्टाचार के नाते उनसे मुलाकात की।

 
प्रवक्ता ने कहा कि इस मुलाकात में राजनीति देखना ठीक नहीं है। उन्होंने इस सवाल को काल्पनिक बताकर टाल दिया कि क्या प्रियंका वाड्रा अखिल भारतीय कांग्रेस समिति की 17 जनवरी को यहां होने वाली बैठक में भाग लेंगी।
 
यह पूछे जाने पर कि क्या वह आगामी आम चुनावों में बड़ी भूमिका निभायेंगी। सुरजेवाला ने कहा कि वह अमेठी तथा रायबरेली लोकसभा क्षेत्र में कई वर्षो से पार्टी कार्यकर्ताओं से संपर्क करती रही हैं। उन्होंने अपनी यह भूमिका खुद चुनी है।
 
प्रवक्ता ने इस बात से इनकार किया कि पार्टी ने राहुल की छवि चमकाने के लिए किसी विज्ञापन कंपनी की सेवाएं ली हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी नेता अपने कार्यों, पार्टी की विचारधारा तथा कार्यकर्ता के बल पर अपना काम करते हैं। छवि बनाने के लिए उन्हें किसी एजेंसी की जरूरत नहीं है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You