पुलिस का व्यवहार परिवार जैसा हो: राजे

  • पुलिस का व्यवहार परिवार जैसा हो: राजे
You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-9:52 AM

जयपुर: राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि थानों में आमजन के साथ पुलिस का व्यवहार अपने परिवारजनों की तरह होना चाहिए। आमजन को ये विश्वास होना चाहिए कि पुलिस उनकी हमदर्द है और आमजन की तकलीफों को दूर करना ही पुलिस का धर्म है। राजे ने कहा कि पुलिस अधिकारी सकारात्मक सोच के साथ कार्य करें, जिससे उनके प्रति आमजन की धारणा में बदलाव आये। उन्होंने बेहतर कानून व्यवस्था के साथ ही साम्प्रदायिक सौहार्द बनाये रखने के भी अधिकारियों को निर्देश दिए।
 
राजे आज पुलिस के रेंज महानिरीक्षकों, जयपुर और जोधपुर पुलिस कमिश्नरों एवं जिला पुलिस अधीक्षकों के साथ अपराध नियंत्रण और सड़क सुरक्षा की समीक्षा कर रही थी। उन्होंने चैन छीनने की घटनाओं पर सख्ती से अंकुश लगाने के निर्देश देते हुए कहा कि महिलाओं और बच्चों में सुरक्षा का भाव जागृत हो यह भी पुलिस की प्राथमिकता होनी चाहिए।
 
मुख्यमंत्री ने कहा पुलिस अधीक्षकों के क्षेत्र में जो विशेष समस्या है उन पर खास ध्यान देकर त्वरित गति से कार्रवाई करे। साथ ही बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़ जिलों में स्थित नहरों से पानी की चोरी की घटनाओं से झगड़े होते हैं, जिन पर सम्बन्धित जिलों के कलेक्टरों एवं पुलिस अधीक्षकों को ध्यान देने की जरूरत है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You