350 ट्रेनों में लगाए गए कोहरे से सुरक्षा के उपकरण

  • 350 ट्रेनों में लगाए गए कोहरे से सुरक्षा के उपकरण
You Are HereNational
Saturday, January 11, 2014-9:36 PM

नई दिल्ली : सर्दी के मौसम में कम दृश्यता के कारण किसी हादसे को रोकने की खातिर उत्तर रेलवे ने मालगाडिय़ों सहित करीब 350 ट्रेनों में कोहरे से सुरक्षा वाले उपकरण लगाए हैं।

मंडल रेल प्रबंधक ए सचान ने शनिवार को यहां कहा कि जम्मू राजधानी, शालीमार एक्सप्रेस और कालका, चंडीगढ़ तथा अमृतसर जाने वाली शताब्दी उन 350 ट्रेनों में हैं जिनमें कोहरे से सुरक्षा वाले उपकरण लगाए हैं। करीब 250 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में तथा 100 मालगाडिय़ों में ऐसे उपकरण लगाए गए हैं।

सचान ने कहा कि रेलवे ने पायलट आधार पर पिछले साल कुछ ट्रेनों में कोहरे से सुरक्षा के उपकरणों का प्रयोग किया था। लोको पायलटों के लिए यह उपकरण काफी मददगार साबित होने के कारण इस साल हमने 350 ट्रेनों में इस प्रणाली की शुरूआत की।

कोहरे से सुरक्षा के उपकरण एक जीपीएस आधारित प्रणाली है जो ड्राइवर के केबिन में लगा होता है। इस उपकरण से ड्राइवर को कोहरे के दौरान आने वाले सिग्नल के बाबत अलर्ट मिल जाता है। कोहरे की वजह से सिग्नलों की दृश्यता प्रभावित होती है। ट्रेन में यह उपकरण लगाने में 35,000 रुपए का खर्च आता है। उन्होंने कहा कि अगले वित्तीय वर्ष में हम 300 और ट्रेनों में यह उपकरण लगाएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You