राजस्थान में घने कोहरे के कारण हवार्इ यातायात प्रभावित

  • राजस्थान में घने कोहरे के कारण हवार्इ यातायात प्रभावित
You Are HereNational
Saturday, January 18, 2014-3:31 PM

जयपुर: राजस्थान में बर्फीली हवाओं के साथ घना कोहरा छाये रहने से सर्दी के तेवर तल्ख बने हुए हैं। कोहरे के कारण दृश्यता कम होने से आज सुबह सांगानेर हवाई अड्डे पर छह उड़ाने  प्रभावित हुईं।  यहां सुबह चार बजे से आठ बजे तक विमानों का हवाई पट्टी पर उतरना और उडान भरने का ऑपरेशन नही हो सका।

कोहरे की चादर बिछी होने से 20 रेलगाडियां बिलम्ब से चलने से यात्रियों की परेशानी बढ़ गर्इ और हजारों लोग विभिन्न रेलवे  स्टेशनों पर गर्म लवादों में लिपटे गंतव्य की ओर जाने वाली रेलगाडी का इंतजार करते रहे। कोहरे की चादर के कारण प्रदेश में सुबह सडकों पर वाहनों की रफ्तार थम गयी और राष्ट्रीय राजमार्गों पर वाहनों की आवाजाही ठहर सी गर्इ।

प्रदेश के अनेक स्थानों पर कल हुई बारिश और कुछ जगह ओलेगिरने से ठिठुरन बढ गर्इ। उत्तर से चल रही बर्फीली हवाओं के कारण प्रदेश के अधिकांश इलाकों में शीतलहर बनी हुई है जिससे आगामी 24 घंटों में गलन भरी सर्दी से कोई राहत मिलने की उम्मीद नही है। जयपुर में पूर्वाह्न 11 बजे बाद खिली धूप भी बेअसर रही और गलन बरकरार रही।

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में पिछले 24 घंटों में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री की बढोतरी के बावजूद कडाके की सर्दी बनी हुई है। माउंट आबू में पारा बढ़ कर तीन डिग्री हो गया वहीं मैदानी इलाकों में 4.7 डिग्री तापमान के साथ चूरू सबसे सर्द स्थान रहा। झीलों की नगरी उदयपुर में 5.5 डिग्री.चित्तौडगढ में 7 डिग्री.  सीमावर्ती गंगानगर में 7.4 डिग्री. मरुनगरी बीकानेर में 7.8 डिग्री, जोधपुर में 7.5 डिग्री, जैसलमेर में 7.1 डिग्र, बाडमेर में 9.6 डिग्री, कोटा में 10.8 डिग्री, अजमेर में 5.7 डिछरी तथा जयपुर में 8.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। नश्तर की चुभती हवाओं से बचने के लिये ग्रामीण इलाकों में लोग अलाव जला कर तापते दिखाई दिए।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You