सोमनाथ भारती मामला: NHRC ने केंद्र व दिल्ली सरकार से मांगी रिपोर्ट

  • सोमनाथ भारती मामला: NHRC ने केंद्र व दिल्ली सरकार से मांगी रिपोर्ट
You Are HereNational
Sunday, January 19, 2014-5:03 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने दक्षिण दिल्ली में कुछ अफ्रीकी नागरिकों के खिलाफ कथित ‘नस्लवादी पूर्वाग्रह’ और ‘गैरकानूनी कृत्य’ वाली घटनाओं के सिलसिले में आज गृह मंत्रालय, दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस से रिपोर्ट मांगी है। एनएचआरसी के आज जारी बयान के अनुसार इस सिलसिले में केंद्रीय गृह मंत्रालय के सचिव, दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव और दिल्ली पुलिस आयुक्त को नोटिस भेजे गये हैं। उन्हें इस संबंध में रिपोर्ट जमा करने के लिए तीन दिन का वक्त दिया गया है।

दिल्ली के कानून मंत्री सोमनाथ भारती की अगुवाई में कुछ लोगों ने खिड़की एक्सटेंशन इलाके में अफ्रीकी महिलाओं पर देहव्यापार और मादक पदार्थ तस्करी में शामिल होने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ आधी रात में कार्रवाई की थी। मानवाधिकार आयोग के नोटिस में इसी मामले का जिक्र किया गया है। बयान में कहा गया, ‘‘अफ्रीकी नागरिकों के खिलाफ भेदभाव और हमलों के आरोप वाली खबरों के मद्देनजर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने किसी भी जाति, वर्ण, नस्ल, लिंग आदि के खिलाफ भेदभाव की कार्रवाई की निंदा की है।’’

घटना का स्वत: संज्ञान लेते हुए आयोग ने कहा कि अगर खबरों में प्रकाशित तथ्य सही हैं तो यह मानवाधिकार उल्लंघन का गंभीर मामला है। एक खबर में कहा गया है कि लोग अफ्रीकी नागरिकों पर पत्थर फेंक रहे हैं और दिल्ली स्थित खिड़की एक्सटेंशन इलाके में रोज सैकड़ों अफ्रीकी लोग भयाक्रांत हैं। बयान के अनुसार, ‘‘एक अन्य खबर में आरोप है कि कुछ महिलाओं को घंटों तक टैक्सियों में बंधक बनाकर रखा गया और अस्पताल में मेडिकल जांच करानी पड़ी। भारत के नाइजीरियाई उच्चायुक्त ने इस कृत्य को करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You