अगर CM धरने पर बैठेंगे तो सरकार कौन चलाएगा: कांग्रेस

  • अगर CM धरने पर बैठेंगे तो सरकार कौन चलाएगा: कांग्रेस
You Are HereNational
Monday, January 20, 2014-7:29 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस ने आज दिल्ली पुलिस के कुछ अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर जम कर निशाना साधा और कहा कि आम आदमी पार्टी की उलटी गिनती शुरू हो गई है। पार्टी ने साथ ही आरोप लगाया कि वह जिम्मेदारी टालने का प्रयास कर रहे हैं और आश्चर्य जताया कि अगर मुख्यमंत्री धरने पर बैठेंगे तो सरकार कौन चलाएगा।

पार्टी महासचिव दिग्विजय सिंह ने यह भी कहा कि अगर आप कानून बदलना चाहती है तो उसे लोकसभा चुनाव लडऩा चाहिए क्योंकि ये संसद में बनते हैं और सड़कों पर धरने के जरिए नहीं। कांग्रेस प्रवक्ता भक्त चरण दास ने कहा, ‘‘वह मुख्यमंत्री हैं। वह व्यवस्था बदल दें। यह नारे लगाने से नहीं होगा। पार्टी के एक अन्य प्रवक्ता मीम अफजल ने कहा कि अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी ने जो कदम उठाया है उससे जनता के बीच एक गलत संदेश गया है। इससे लगता हैं कि उनकी उलटी गिनती शुरू हो गई है। जनता ने इसे पसंद नहीं किया है। उन्होंने कहा, ‘‘जब जनता ने आपको सत्ता दी है तो आप उसके जरिये बदलाव लाना होगा, आंदोलन और प्रदर्शन के जरिये नहीं। अगर मुख्यमंत्री धरने पर बैठते हैं तो सरकार कौन चलाएगा।’’

भक्त चरण दास ने कहा कि मुख्यमंत्री को व्यवस्था पर भरोसा होना चाहिए। अगर वे व्यवस्था में विश्वास नहीं भी करते हैं तो भी उन्हें इसे बदलना चाहिए न न कि नारे लगाना चाहिए और सड़कों पर या मीडिया के जरिए आरोप लगाना चाहिए। वह अपनी जिम्मेदारी को टालने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिम्मेदारियों को अपने कंघे पर उठाने की बजाय दिल्ली के मुख्यमंत्री इसे किसी और के कंधे पर डालने का प्रयास कर रहे हैं। कांग्रेस प्रवक्ता ने यह भी कहा कि अगर उनके पास किसी व्यक्ति के खिलाफ पर्याप्त सामग्री है तो आरोप लगाने के बजाय केजरीवाल को प्रक्रिया का पालन करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इन चीजों पर कारर्वाइ को आगे बढाने के लिए मुख्यमंत्री सचिवालय है, जांच करने के लिए लोकायुक्त और सीबीआई है और केजरीवाल को भ्रष्ट लोगों को सजा दिलाने के लिए इनका इस्तेमाल करना चाहिए। इस सवाल पर कि आखिर कांग्रेस केजरीवाल सरकार को क्यों समर्थन दे रही है भक्त चरण दास ने कहा कि उनकी पार्टी का समर्थन किसी व्यक्ति या किसी पार्टी के लिए नहीं है बल्कि कांग्रेस ने जनता के जनादेश का सम्मान किया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You