अगर धरने ही देने थे तो केजरीवाल क्यों बने CM: उमा भारती

  • अगर धरने ही देने थे तो केजरीवाल क्यों बने CM: उमा भारती
You Are HereNational
Tuesday, January 21, 2014-3:29 PM

उज्जैन: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उपाध्यक्ष उमा भारती ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के धरने को अनुचित बताते हुए आज कहा कि उन्हें ऐसा काम करना था तो फिर वह चुनाव लड़कर मुख्यमंत्री क्यों बने। भारती ने यहां पत्रकारों से कहा कि मुख्यमंत्री का धरने पर बैठना संवैधानिक कार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के धरने की वजह से जनता को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यदि धरना ही देना है तो मुख्यमंत्री बनने की क्या जरूरत। यह काम तो सत्ता से दूर रहकर ही किया जा सकता है।

 

आगामी लोकसभा चुनाव में उनके चुनावी समर में उतरने संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा कि इस संबंध में फैसला पार्टी को करना है। पार्टी अध्यक्ष का जो भी आदेश होगा, उसका पालन किया जाएगा। यदि अध्यक्ष चुनाव नहीं लडऩे के लिए कहेंगे तो वह संगठन का काम ही करेंगी। मध्यप्रदेश सरकार के कामकाज के संबंध में उन्होंने कहा कि जनता ने लगातार तीसरी बार भाजपा को जिताया है इसलिए सरकार जनता के हित में ही निर्णय लेकर काम करेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You