धरना- प्रदर्शन के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई शुक्रवार को

  • धरना- प्रदर्शन के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई शुक्रवार को
You Are HereNational
Tuesday, January 21, 2014-11:58 PM

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारियों के सिलसिले में लुटियन जोन में निषेधाज्ञा लागू होने के बावजूद वहां दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कानून मंत्री सोमनाथ भारती के धरना-प्रदर्शन करने के खिलाफ  दायर दो जनहित याचिकाओं पर सुनवाई करने के लिए तैयार हो गया है।

यह याचिका नई दिल्ली इलाके में हुए धरना-प्रदर्शन से उपजी अव्यवस्था के विरोध में दायर की गई है। सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश पी. सतशिवम की पीठ ने कहा कि वह इस याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई करेंगे। याचिकाकर्ता वकील ने कहा कि अपने मंत्री को एक मामले से बचाने के लिए केजरीवाल ने संविधान को तोडऩे की कोशिश की है।

हमने सुप्रीम कोर्ट से प्रार्थना की है कि जिन लोगों ने उन महिलाओं के साथ गलत किया है, उनके खिलाफ जांच हो। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को पीआईएल पर सुनवाई का निर्णय लिया है। याचिकाकर्ता वकील ने कहा कि मुख्यमंत्री से कानून व व्यवस्था बनाए रखने की उम्मीद की जाती है लेकिन इसके उलट वह पांच पुलिसकर्मियों के निलंबन की मांग को लेकर प्रदर्शन कर कानून व व्यवस्था के लिए मुश्किलें पैदा कर रहे हैं।
 
गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी ने पुलिस अधिकारियों पर देह व्यापार और मादक पदार्थो की तस्करी के खिलाफ कानून मंत्री सोमनथ भारती के निगरानी.छापे में सहयोग न देने और दहेज के एक मामले में मंत्री राखी बिड़ला की शिकायत पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You